तकनीक के इस युग में भी किताबों की महत्ता को कम नहीं आंका जा सकता है। आज भी ऐसे बहुत से लोग है, जिन्हें किताबों से लगाव है और वह हमेशा कुछ न कुछ पढ़ने की इच्छा रखते हैं। अगर आप भी ऐसे ही लोगों में शामिल है तो इस लगाव को ही अपना करियर बना सकते हैं। किताबों के प्रति लगाव रखने वाले लोग लाइब्रेरियन के तौर पर अपना और अन्य लोगों का  भविष्य संवार सकते हैं। 
कंप्यूटर का ज्ञान जरुरी 
अगर आप एक लाइब्रेरियन बनना चाहते हैं तो आपको किताबों से प्यार तो होना ही चाहिए, साथ ही साथ आपको अलग−अलग विषयों की किताबें, बेहतर संवाद शैली, आयोजन क्षमता, व्यापक सामान्य ज्ञान और लंबे समय तक काम करने की क्षमता होनी चाहिए। तकनीक के इस युग में लाइब्रेरी को बेहतर तरीके से आर्गेनाइज करने के लिए कंप्यूटर की मदद ली जाने लगी है तो आपको कंप्यूटर का भी अच्छा ज्ञान होना जरूरी है।
क्या होता है काम
एक लाइब्रेरियन सूचना प्रबंधक होता है, जिसका मुख्य काम लोगों को जानकारी खोजने और प्रभावी ढंग से उपयोग करने में सहायता करते हैं। इसके अतिरिक्त वह पुस्तकालय के वित्तीय संचालन की योजना और समन्वय में भी सक्रिय भूमिका निभाते हैं। एक लाइब्रेरियन पुस्तकालय में आने वाले लोगों के सवालों के उत्तर देने के साथ−साथ पुस्तकों को जारी करने और उन्हें वापिस प्राप्त करने का काम करते हैं। इतना ही नहीं, वह लोगों के बीच किताबों को पढ़ने की इच्छा जागृत करने की कोशिश भी करते हैं।
योग्यता
लाइब्रेरी साइंस में कोर्स करने के लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक है। स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप लाइब्रेरी साइंस में एक वर्षीय बैचलर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। बैचलर डिग्री के बाद आप एक वर्षीय मास्टर्स डिग्री भी कर सकते हैं। अधिकतर इंस्टीट्यूट यह कोर्स संचालित करते हैं, हालांकि इसमें प्रवेश के लिए परीक्षा ली जाती है।
संभावनाएं
एक लाइब्रेरियन पब्लिक व गवर्नमेंट लाइब्रेरी, यूनिवर्सिटीज व अन्य एकेडमिक इंस्टीट्यूट, न्यूज एंजेसी व आर्गेनाइजेशन, विदेशी दूतावास, फिल्म पुस्तकालय, सूचना केन्द्र, संग्रहालय व गैलरी आदि में काम कर सकते हैं।
आमदनी
एक लाइब्रेरियन की सैलरी उसके अनुभव के अतिरिक्त इस आधार पर निर्भर करती है कि वह किस इंस्टीट्यूट व किस पद के लिए काम कर रहा है। वैसे एक लाइब्रेरियन सालाना 100000−150000 तक कमा सकता है।
प्रमुख संस्थान
कलकत्ता यूनिवर्सिटी, कलकत्ता
साहिबगंज कॉलेज, झारखंड
डॉ सीवी रमन यूनिवर्सिटी, कोटा
ज्ञानोदय महाविद्यालय, लखनउ
आईएसबीएम यूनिवर्सिटी, छत्तीसगढ़