पटना । भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन प्रत्याशियों के खिलाफ बगावत करने वाले छह और नेताओं को पार्टी से ‎निकाल ‎दिया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल के निर्देश पर मुख्यालय प्रभारी सुरेश रूंगटा ने आदेश जारी करते हुए सारण जिले के राकेश कुमार सिंह, वैशाली के प्रोफेसर अजीत कुमार सिंह, वैशाली के पूर्व जिलाध्यक्ष संजय सिंह, पश्चिमी चंपारण जिले की रेणु कुमारी और अररिया जिले के पूर्व जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह उर्फ बबन और सिवान जिले के जितेंद्र स्वामी को पार्टी से छह साल के लिए बाहर ‎‎निकाल ‎दिया है। दरअसल, इन नेताओं पर भाजपा की छवि धूमिल करने का आरोप है। पार्टी ने इन सभी नेताओं पर बगावत करने आरोप लगाया है। आरोप है कि एनडीए को नुकसान पहुंचाने के लिए ये सभी या तो निर्दलीय या किसी न किसी दल के बैनर तले चुनाव लड़ रहे हैं। पार्टी द्वारा निर्गत पत्र में लिखा गया कि आप एनडीए के अधिकृत प्रत्याशी के विरुद्ध चुनाव प्रचार कर रहे हैं और आपका यह कार्य दल विरोधी है जिससे पार्टी की छवि धूमिल हुई है। साथ ही आपने पार्टी अनुशासन के विरुद्ध यह कार्य किया है। अतः आपको दल विरोधी इस कार्य के लिए प्रदेश अध्यक्ष के आदेशानुसार पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किया जाता है। बता दें कि अभी तक भारतीय जनता पार्टी प्रदेश से लेकर जिला स्तरीय 57 नेताओं के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी है। इसमें पार्टी के प्रदेश पदाधिकारी, पूर्व विधायक, पूर्व सांसद, प्रदेश कार्य समिति सदस्य, पूर्व प्रदेश कार्य समिति सदस्य, जिलों के वरिष्ठ नेता से लेकर पूर्व जिलाध्यक्ष और संगठन से जुड़े नेताओं के नाम भी शामिल हैं।