संभल. संभल (Sambhal) के नखासा थाना क्षेत्र के एक कस्बे में दुष्कर्म (Rape) के बाद जिंदा जलाई गई किशोरी का शव पोस्टमार्टम के बाद रविवार को घर पहुंचा. शव घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया. यही नहीं पीड़ित परिवार के घर लोगों के पहुंचने का सिलसिला भी शुरू हो गया. जिसके बाद एहतियातन पुलिस बल (Police Force) को भी तैनात कर दिया. देर शाम कड़ी सुरक्षा के बीच पीड़िता को सुपुर्द-ए-खाक किया गया.
बता दें 9 दिन जिंदगी और मौत के बीच जूझती किशोरी ने शनिवार को दिल्ली के सफदरजंग में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. रविवार को दिल्ली से जैसे ही पीड़िता का शव शहर में पहुंचा, लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा. लोग पीड़ित परिवार को सांत्वना देने पहुंचे. संभल विधायक नवाब इकबाल महमूद, जाट समाज की प्रदेश अध्यक्ष डॉ शालिनी राकेश समेत तमाम नेता पीड़ित के घर पहुंचे. हालांकि इस दौरान पुलिस मुस्तैद दिखी. पुलिस के अधिकारियों ने भी पीड़ित परिवार को आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया.
घर में अकेला पाकर किया था रेप
21 नवंबर को संभल (Sambhal) के नखासा थाना क्षेत्र में जब पीड़िता घर में अकेली थी तो उसके पड़ोसी युवक ने रेप किया. दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने पीड़ित किशोरी पर केरोसिन छिड़ककर आग लगा दिया. गंभीर रूप से झुलसी किशोरी को जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया था. उसकी गंभीर हालत को देखते हुए दिल्ली रेफर कर दिया गया था.
फ़ास्टट्रैक कोर्ट में चलेगा मुकदमा
मामले में पुलिस ने आरोपी जीशान को गिरफ्तार कर मुकदमा दर्ज कर लिया है. इतना ही नहीं आरोपी के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई भी की गई है. एएसपी अलोक जायसवाल ने बताया कि पीड़िता को घर में अकेला देखकर पड़ोसी युवक जीशान ने दुष्कर्म किया. उसके बाद उसके ऊपर केरोसिन का तेल छिड़ककर आग लगा दी. पीड़िता को गंभीर हालत में जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से उसे दिल्ली रेफर कर दिया गया था. एएसपी ने बताया कि मामले को फ़ास्टट्रैक कोर्ट में ले जाकर पीड़िता को त्वरित न्याय दिलवाया जाएगा