भुवनेश्वर । एफआईएच प्रो लीग से भारतीय हॉकी टीम में वापसी कर रहे मिडफील्डर चिंगलेनसाना सिंह ने कहा कि उन्हें उम्मीद नहीं थी कि टीम में शामिल किया जाएगा चिंगलेनसाना को नौवीं सीनियर राष्ट्रीय पुरूष हाकी चैम्पियनशिप के दौरान दाहिने टखने में चोट लगी थी इसके बाद उन्हें काफी समय तक खेल से दूर रहना पड़ा। चिंगलेनसाना ने कहा, ‘यह मेरे लिये कठिन दौर था। मुझे नहीं लगता था कि अब भारतीय टीम में वापसी कर सकूंगा।' एफआईएच हॉकी प्रो लीग में खेलने जा रहे इस खिलाड़ी ने कहा, ‘मैने आठ महीने हॉकी नहीं खेली लेकिन उम्मीद नहीं छोड़ी। इस दौरान मैने अपनी फिटनेस पर पूरा ध्यान बनाए रखा और हमारे वैज्ञानिक सलाहकार राबिन अर्केल के दिये कार्यक्रम का पालन किया।' उन्होंने कहा, ‘अपना वजन संतुलित रखने के लिये मैने चावल खाना पूरी तरह से छोड़ दिया था।' उन्होंने कहा, ‘टीम में लौटकर मैं बहुत खुश हूं और अपनी ओर से सौ फीसदी देने की कोशिश करूंगा। भारत के पास खिलाड़ियों का बड़ा पूल है और सभी को टीम में अपनी उपयोगिता साबित करनी होगी। मैं इसे नयी शुरूआत के रूप में देख रहा हूं।'