चरखी दादरी। हरियाणा के चरखी दादरी जिले के कोविड अस्पताल में एडमिट एक कोरोना संक्रमित मरीज की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। कोरोना संक्रमित मरीज का शव मंगलवार को अल सुबह अस्पताल के बाथरूम में पड़ा मिला। मृतक गांव ढाणी फोगाट निवासी छाजू राम 29 मई को गुरुग्राम से दादरी आया था और कोविड 19 अस्पताल में भर्ती हो गया था। सोमवार सुबह उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।
 बताया जा रहा है कि बाथरूम में गिरने से उस की जीभ कट गई और उसकी मौत हो गई। फिलहाल मृतक के शव को दादरी के नागरिक अस्पताल के शव गृह में रखवाया गया है। कोविड अस्पताल में एडमिट कुछ मरीजों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल कर अस्पताल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उनका आरोप है कि रात को कोई डॉक्टर नहीं होने से मरीज की हालत बिगड़ी थी। उनका आरोप है कि मरीज को वेंटिलेटर पर नहीं रखा गया था, जिसके चलते उसकी मौत हुई है।

फोन किया पर कंट्रोलरूम से नहीं मिला रिस्पांस:
अस्पताल में एडमिट एक युवक ने वीडियो वायरल करते हुए बताया की उसने कंट्रोल रूम में कई बार फोन किया और बावजूद इसके अस्पताल में कोई डॉक्टर नहीं पहुंचा। कंट्रोल रूम में लोग कह रहे थे कि डॉक्टर गौरव की ड्यूटी है और वो ही आएंगे। युवक का आरोप है कि उसने डिप्टी सीएमओ को भी फोन किया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। युवक ने बताया कि रात को उसने देखा की मृतक शख्स बेड पर नहीं है। उसने उसकी तलाश की तो वो बाथरूम में नीचे गिरा हुआ मिला। उसके मुंह से खून बह रहा था। अस्पताल के स्टाफ को उसने सूचित किया, जिसके बाद उसे बाथरूम से उठा कर लाया गया। वहीं मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस भी मौके पर पहुंची। जांच के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा हो पाएगा।