जयपुर । भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान प्रदेश में स्वास्थ्य अव्यवस्थाओं के कारण कोरोना मरीजों की रिकॉर्डतोड़ बढ़ोतरी कांग्रेस सरकार के स्वास्थ्य विभाग की पोल खोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से प्रदेश के हालात बेहाल हंै, स्वास्थ्य विभाग की बढ़ती लापरवाही के कारण कोरोना लगातार अपने पैर पसार रहा है। डॉ. पूनियां ने कहा कि दीपावली के बाद से प्रदेश में कोरोना का महाविस्फोट लगातार जारी है, उसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। प्रदेश के निजी एवं सरकारी अस्पतालों में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, अस्पतालों में बेड एवं वेन्टिलेटर की उचित व्यवस्था नहीं है, जबकि केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश की कांग्रेस सरकार को लगातार बेहतर मेडिकल सुविधाओं के लिए विश्रीय सहायता एवं वेन्टिलेटर उपलब्ध करवाये जा रहे हैं। डॉ. पूनियां ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग की भारी लापरवाही के चलते प्रदेश में 2700 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं और 14 लोगों की मौत हो गई है। प्रदेश में अब तक संक्रमित मरीजों की संख्या बढक़र 2 लाख 37 हजार से अधिक हो गई है और प्रदेश में मौतों का आँकड़ा लगातार बढक़र 2100 से अधिक पहुँच गया है तथा राजस्थान देश में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में पाँचवां सबसे संक्रमित राज्य बन गया है। कोरोना के मामलों में प्रदेश में राजधानी जयपुर हॉटस्पॉट बना हुआ है, इसके बाद जोधपुर, अजमेर, अलवर, कोटा एवं भीलवाड़ा जिले में भी कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। डॉ. पूनियां ने प्रदेश की बेहाल चिकित्सा व्यवस्था पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत ने जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है और केवल मात्र कोरोना महामारी की समीक्षा कर इतिश्री कर रहे हैं, चिकित्सा व्यवस्थाओं को सुधारने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहे हैं, ना ही टेस्टिंग की उचित व्यवस्था है, ना ही मरीजों के लिए बेड की उचित व्यवस्था है और ऑक्सीजन सिलेण्डरों की कमी से मरीजों को परेशानी झेलनी पड़ रही है।