जयपुर. राजनीतिक नियुक्तियों (Political appointments) के लिए इंतजार कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं (Congress workers) का इंतजार जल्द खत्म होने के आसार (Possibilities) बन रहे हैं. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने राजनीतिक नियुक्तियों के लिए योग्य कार्यकर्ताओं के नामों की सूची जल्द देने को कहा है. राजनीतिक नियुक्तियों का यह मुद्दा रविवार को राजधानी जयपुर में मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित मंत्रिपरिषद की बैठक (Council of Ministers meeting) में उठा था.
50 हजार कार्यकर्ताओं को राजनीतिक नियुक्तियां देने की तैयारी
प्रदेशभर में पहले फेज में जिला और ब्लॉक स्तर की समितियों और सरकारी विभागों में करीब 50 हजार कार्यकर्ताओं को राजनीतिक नियुक्तियां देने की तैयारी है. सीएम अशोक गहलोत ने सोमवार-मंगलवार तक सभी मंत्रियों को राजनीतिक नियुक्तियों वाले कार्यकर्ताओं की सूची देने के निर्देश दिए हैं. इससे पहले 30 नवंबर तक कार्यकर्ताओं के नाम देने की डेडलाइन दी गई थी.
पहले जिला स्तर पर होंगी नियुक्तियां
ज्यादातर मंत्रियों-विधायकों ने राजनतिक नियुक्तियों वाले कार्यकर्ताओं की सूची तैयार कर ली है. संभवतया इसी महीने राजनीतिक नियुक्तियां होने के पूरे आसार हैं. जिलों के बाद प्रदेश स्तर की बड़ी राजनीतिक नियुक्तियों का नंबर आएगा. इन नियुक्तियों को लेकर कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं में कई तरह की चर्चाएं हैं. वहीं इन नियुक्तियों के लिए लॉबिंग का काम भी जोरों पर चल रहा है.
लंबे समय से टलता आ रहा है नियुक्तियों का मामला
उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने हुए एक साल पूरा होने जा रहा है. लेकिन राजनीतिक नियुक्तियों का मामला अभी तक अटका हुआ है. इसके लिए तैयारियां काफी पहले से शुरू हो गई थी, लेकिन कभी किसी कारण से तो कभी किसी कारण से ये नियुक्तियां टलती आ रही हैं. अब मंत्रपरिषद की बैठक में यह मुद्दा उठने से इसमें एक बार फिर तेजी आई है.
प्रदेश प्रभारी जल्द होगा नियुक्तियों पर फैसला
मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा सीएम ने मंत्रियों को कार्यकर्ताओं के नाम जल्द भेजने के निर्देश दिए हैं. राजनीतिक नियुक्तियों पर जल्द फैसला होगा. चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि राजनीतिक नियुक्तियों के लिए मंत्रियों ने रिपोर्ट तैयार कर ली है. जल्द ही सीएम को नामों की रिपोर्ट भेज दी जाएगी.