मास्को । मनुष्यों के मांस का अचार सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो गए होंगे पर यह कोई ड्रैकुला फिल्म का सीन नहीं है। रूस में पुलिस ने एक ऐसे दंपती को गिरफ्तार किया है जोकि पिछले 30 साल से इंसानों को मौत के घाट उतार कर उनका अचार बनाकर खाते थे। गिरफ्तारी के बाद जब इस कपल दिमित्री बाकेशेव और उसकी पत्नी नतालिया ने अपने राज खोले, तो उसे सुनकर पुलिस के पैरों तले जमीन निकल गई। दरअसल, रूस के क्रासनोदर शहर में पुलिस को गश्त के दौरान एक मोबाइल फोन मिला जिसमें उन्हें एक ऐसी फोटो दिखाई दी जिसमें एक आदमी मानव शरीर के साथ सेल्फी ले रहा था। इस तस्वीर को देखने के बाद पुलिस ने शक के आधार पर सेल्फी लेने वाले शख्स की तलाश शुरू की। छानबीन के दौरान पुलिस दिमित्री बाकेशेव और उसकी पत्नी नतालिया को क्रासनोदर शहर से गिरफ्तार किया। पुलिस से पुछताछ के दौरान इस कपल ने स्वीकार किया कि उन्होंने 30 से अधिक लोगों को मारकर और उनके मांस से अचार बनाकर उसे लोकल रेस्टोरेंट में बेचा था। 
रिपोर्ट के मुताबिक क्रासनोदर सिटी में रहने वाले 35 साल के दिमित्री बाकेशेव ने स्वीकार किया है कि वो अब तक 30 से भी ज्‍यादा लोगों को मारकर खा चुके है। यह काम उन्होंने अपनी पत्नी  नतालिया बाकेशेव के साथ मिलकर किया। नतालिया पेशे से नर्स है। तालिया इंसान के मीट के बिस्‍कुट बनाकर लोकल रेस्‍टोरेंट में उनकी सप्‍लाई करती थी। खबरों में कहा जा रहा है कि मनोवैज्ञानिक ने नतालिया की जांच भी की और मानसिक रूप से स्‍वस्‍थ बताया है। जब पुलिस ने कपल के घर की तलाशी ली तो उनके फ्रीजर से इंसान का कटा हुआ सिर और संतरे रखे मिले। इसके साथ ही इंसानी मीट के चार का एक जार और 19 खालें भी मिली है। इस मामले के बाद रूस के कई शहरों में सनसनी फैल गई थी। पुलिस अब यह पता लगाने में लगी हुई है कि अब तक यह कपल कितने लोगों को मार चुके हैं।