भिवानी। भिवानी में अपहरण का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक शख्स ने 6 लाख रुपए देने के बाद भी जब ना नौकरी मिली और ना पैसे तो उसने पैसे लेने वाले का अपने साथियों के साथ अपहरण कर 35 लाख रुपए फिरौती मांग डाली। जब कुछ नहीं मिला तो तीन दिन इधर उधर घुमाकर दादरी के किसी गांव में छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने अपहरण करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
 31 मई को सदर थाना भिवानी में मधमाधवी गांव निवासी अमित ने शिकायत दी थी कि तीन दिन पहले मानहेरू गांव निवासी अनिल ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर उसका और उसके साथी रमेश का उनकी कार सहित अपहरण कर लिया और 35 लाख की फिरौती मांगी, ना मिलने पर तीन दिन बाद चरखी दादरी के हङोदी गांव में छोड़ कर फरार हो गए। शिकायत पर पुलिस ने अपहरण के मुख्य आरोपी अनील सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया।
 थाना प्रभारी श्रीभगवान ने बताया कि मधमाधवी गांव निवासी अमित ने मानहेरू गांव निवासी अनील से नौकरी दिलाने के नाम पर 6 लाख रूपये लिए थे। जब अनील को ना नौकरी मिली और ना पैसे वापस मिले तो अनील ने अपने पांच अन्य साथियों के साथ मिलकर अमीत व उसके साथी रमेश का उनकी कार सहित अपरहण कर लिया। थाना प्रभारी ने बताया कि इस मामले में अपहरण के आरोपी अनील व उसके दो साथी अभिषेक व योगेश को गिरफ्तार कर लिया है। नौकरी के लिए पैसे देने व उसके बाद ना नौकरी मिलने और ना ही पैसे मिलने पर इस तरह अपहरण का ये पहला अनोखा मामला सामने आया है।