इंदौर। लोकायुक्त पुलिस ने मंगलवार को जनपद पंचायत की उपयंत्री गीता विजयवर्गीय को उनके घर से 4500 रुपये की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। उपयंत्री ने मकान का नक्शा पास कराने के लिए 5000 रुपये की रिश्वत की मांग की थी।

इंदौर बायपास स्थित ओमेक्स सिटी फेस वन निवासी अशोक शर्मा ने लोकायुक्त में शिकायत दर्ज करवाई थी, जिसके बाद पुलिस ने रणनीति बनाकर उक्त कार्रवाई की। अशोक शर्मा की शिकायत के अनुसार उन्होंने रंगवासा ग्राम पंचायत में राज लक्ष्मी पैलेस में लक्ष्मी वर्मा से जमीन खरीदी थी। इसी जमीन पर मकान बनाने के लिए पास जनपद पंचायत से नक्शा करवाना था। नक्शा पास करवाने के एवज में गीता विजयवर्गीय ने अशोक से 5000 रुपये की रिश्वत की मांग की थी। इस बात की शिकायत उन्होंने लोकायुक्त पुलिस से की। इसके बाद गीता और अशोक की बातचीत की रिकार्डिंग कराई गई। इसके आधार में 4500 रुपये देना तय हुआ था। लोकायुक्त ने रणनीति के तहत दल का गठन किया और गीता विजयवर्गीय के स्कीम नंबर 54 स्थित निवास पर रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा। उपयंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (संशोधित) 2018 की धारा 7 के अंतर्गत कार्यवाही जारी है।