भीलवाड़ा। दीर्घकालीन उत्कृष्ट बालसाहित्य साधना के लिए बालसाहित्य के अप्रतिम साधक डॉ. भैरूंलाल गर्ग को उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान ने वर्ष 2018 के ‘बालसाहित्य भारती सम्मान’ से समादृत किया है। 30 दिसम्बर को उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान, लखनऊ के यशपाल सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में वरिष्ठ बालसाहित्यकार एवं बाल साहित्यिक पत्रिका ‘बालवाटिका’ के संपादक डॉ. गर्ग को इस अवसर पर समारोह के अध्यक्ष, उ.प्र. विधानसभा के अध्यक्ष श्री हृदयनारायण दीक्षित, संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. सदानन्द प्रसाद गुप्त, संपादक डॉ.  अमिता दुबे आदि मंचस्थ अतिथियों ने उत्तरीय, माल्यार्पण, प्रशस्तिपत्र एवं रुपए दो लाख की धनराशि भेंटकर सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्तर पर दिया जानेवाला बालसाहित्य का यह सर्वोच्च सम्मान है। डॉ. भैरूंलाल गर्ग राजस्थान प्रदेश के पहले बालसाहित्यकार हैं, जिन्हें यह सम्मान प्रदान किया गया है। डॉ. गर्ग ने निस्संदेह इस सम्मान से भीलवाड़ा नगर का ही नहीं बल्कि राजस्थान प्रदेश का भी गौरव बढ़ाया है।