लंदन । हफ्ते में तीन बार मुट्ठी भर बादाम, अखरोट खाने से दिल की धड़कन अनियंत्रित होने का खतरा 18 फीसदी तक कम हो जाता है। स्वीडन के 60 हजार लोगों के दिल की सेहत पर 17 साल तक अध्ययन के बाद इस नतीजे पर पहुंचे हैं। दिल की सेहत उम्र बढ़ने के साथ लोगों के लिए चिंता का सबब बन जाती है। एक नए अध्ययन में विशेषज्ञों का कहना है कि एट्रियल फाइब्रिलेशन यानि दिल की धड़कन अनियंत्रित होने की समस्या में नट्स का नियमित सेवन आराम पहुंचाने वाला हो सकता है। यह हार्ट स्ट्रोक होन की अहम वजह होता है। शोध के दौरान विशेषज्ञों ने यह भी देखा कि सीमित मात्रा में नट्स खाने से हार्ट फेल होने का खतरा भी कम हो जाता है। स्वीडन के कैरोलिंस्का इंस्टीट्यूट में हुए इस शोध में कहा गया है कि नट्स का सेवन हार्ट अटैक और स्ट्रोक के खतरे को कम करता है। हालांकि इस अध्ययन की एक खास बात यह थी कि इसमें शामिल सभी प्रतिभागी युवा और शारीरिक तौर पर सक्रिय थे। इनका वजन नियंत्रित था और यह कम मात्रा में शराब का सेवन करते थे।