गुजरात के भावनगर में अस्थि विसर्जन करने आए परिवार के तीन सदस्यों की समुद्र में डूब जाने से मौत हो गई। अस्थि विसर्जन के बाद परिवार के सदस्य अरब सागर में नहा रहे थे। इसी दौरान समुद्र की लहरें उन्हें अपने साथ खींचकर ले गईं। किनारे पर मौजूद ठेलेवालों ने इन्हें बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन पेट में पानी चले जाने का कारण तीनों की मौत हो गई। मृतकों में पिता- बेटा और बेटी शामिल है। भावनगर जिले के मालपरा गांव के रहने वाले और रेलवे कर्मचारी लाभूभाई नायक (40) अपने भाई के परिवार के साथ शनिवार को पिता की अस्थियां समुद्र में विसर्जित करने भावनगर आए थे। अस्थि विसर्जन के बाद लाभूभाई बेटे जयेश (13), बेटी सरोजबेन (16) और भाई सहदेव के साथ समुद्र में नहा रहे थे। इसी दौरान एक ऊंची लहर चारों को साथ खींच ले गई। हालांकि, किसी तरह सहदेव तो किनारे गए, लेकिन अन्य तीन डूबने लगे। इन्हें डूबता देख किनारे खड़े ठेलेवालों और तैराकों ने तीनों को बाहर निकाला, लेकिन तब तक तीनों की मौत हो चुकी थी।

बीच पर मौजूद स्थानीय एक फोटोग्राफर ने बताया कि अस्थि विसर्जन के बाद परिवार बीच पर ही घूम-फिर और नहा रहा थे। हादसे के करीब आधे घंटे पहले ही परिवार ने उससे एक फोटो भी खिंचवाई थी। वहीं, नारियल पानी बेचने वाले एक शख्स ने बताया कि हमने महिलाओं की आवाज सुनी तो उनके डूबने की बात पता चली। हम लोगों ने उन्हें बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन नाकाम रहे।