अंबरनाथ। एक विवाहित महिला द्वारा आत्महत्या करने के बाद, उसके पति, सास और ननद, जो उसके अंतिम संस्कार में आए थे, उन्हें लड़की के रिश्तेदारों द्वारा बुरी तरह से पीटा गया। दरअसल युवती के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया कि उसने अपने पति और ससुराल वाओं की प्रताड़ना से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। बता दें कि अंबरनाथ (पूर्व), बी केबिन परिसर में रहने वाली 26 वर्षीय सुषमा की शादी 8 महीने पहले मुंबई के वडाला इलाके में रहने वाले विजय चंद्रकांत गुंडाल (35) से हुई थी। सुषमा कुछ दिन पहले अपने घर आई थी। अचानक गुरुवार रात वो घर से निकल गई और चलती लोकल ट्रेन के सामने छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। सुषमा के शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद उसके शव को अंतिम संस्कार के लिए उसके मायके वालों को सौंप दिया गया था। कल दोपहर करीब 2 बजे सुषमा का शव उसके मायके में लाया गया था। जहां उसके रिश्तेदार और पड़ोसी अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए एकत्र हुए थे। इस बीच पत्नी के अंतिम संस्कार में शामिल होने मृतक सुषमा का पति विजय चंद्रकांत गुंडाल, सास गोपीबाई, ननंद राजश्री और संगीता भी आई। जहां सुषमा के रिश्तेदारों ने उनकी बेरहमी से पिटाई कर दी। कुछ स्थानीय लोगों ने हस्तक्षेप किया और एक दुकान के अंदर विजय और उनके रिश्तेदारों को बंद कर दिया और फिर बाद में उन्हें छाया अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया। बताया गया है कि सुषमा एक पढ़ी-लिखी और शांत स्वभाव की युवती थी। उसके रिश्तेदारों ने उसके पति, सास और ननद पर शारीरिक और मानसिक रूप से दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। उधर विजय गुंडाल ने मृतक सुषमा के मायके वालों के खिलाफ मारपीट की शिकायत शिवाजीनगर पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई और पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।