नोए़डा के सेक्टर 39 स्थित हाजीपुर गांव में पारिवारिक विवाद के चलते एक व्यक्ति ने बुधवार सुबह खुद पर और पत्नी के ऊपर केरोसिन डालकर आग लगा दी। उन्हें बचाने आई व्यक्ति की सास भी झुलस गई। तीनों को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां से उन्हें दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रैफर कर दिया गया। 

 

मूलरुप से पश्चिम बंगाल के मालदा निवासी मोहनदास थानाक्षेत्र के हाजीपुर गांव में किराए पर रहता है। उसी बिल्डिंग में मोहनदास की पत्नी लक्ष्मी और सास किरण भी रहती है। एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि मोहनदास और उनकी पत्नी के बीच तलाक का मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इसी को लेकर परिवार में विवाद रहता है। इसी पारिवारिक कलह के चलते बुधवार सुबह करीब 11 बजे मोहन दास केरोसिन लेकर अपनी पत्नी के कमरे में घुस गया। उसने खुद पर और पत्नी के ऊपर केरोसिन छिड़ककर आग लगा दी।

इसी बीच मोहन की सास को पता चला तो वह दोनों को बचाने के लिए दौड़ी। उन्होंने आग बुझाने का प्रयास किया। इससे वह भी झुलस गई। पड़ोसियों की मदद से आग को बुझाया गया। तीनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां पर हालत नाजुक होने पर तीनों को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रैफर कर दिया गया। थाना प्रभारी ने बताया कि पति-पत्नी की हालत गंभीर बनी हुई है। जबकि किरण की हालत में सुधार है। मोहनदास की दो बेटी और एक बेटा है। पुलिस अपने स्तर पर मामले की जांच कर रही है।