करनाल दक्षिण-पश्चिम मानसून 2021 ने 25 अक्टूबर को पूरे देश से वापसी पूरी कर ली है। 2017 में भी मानसून इसी तारीख को वापस हुआ था। सबसे अधिक देरी से 2020 में 28 अक्टूबर को मानसून की वापसी हुई थी। यह वापसी 2021 दक्षिण भारत में पूर्वोत्तर मानसून की शुरुआत के साथ मेल खाती है, जैसा कि पिछले साल 2020 में भी हुआ था। मौसम विभाग के मुताबिक अब मौसम में तेजी से बदलाव आएगा। एक हफ्ते में तापमान में तेजी से गिरावट होगी। न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचेगा।

दक्षिण पश्चिम मानसून की शुरुआत की सामान्य तिथि एक जून है और वापसी की सामान्य तिथि 15 अक्टूबर है। इस साल मानसून की शुरुआत तीन जून को हुई थी और अंतिम निकास 25 अक्टूबर को हुआ था। लगभग 145 दिनों तक बना रहा। जल्दी शुरुआत या देर से वापसी के बावजूद, मौसमी बरसात 4 महीने तक सीमित है और 30 सितंबर को बंद हो जाते हैं।