मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में इन दिनों कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) फिर से जोर पकड़ रहा है. इसे देखते हुए कुछ शहरों में लॉकडाउन या अन्‍य प्रतिबंध लगाए गए हैं. वहीं अगर महाराष्‍ट्र के विदर्भ क्षेत्र (Vidarbha) की बात करें तो यहां पिछले 3 महीने से बहुत तेजी से कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ रहा है. इसके कारण यहां के अफसरों को एहतियात के तौर पर कई कदम उठाने पड़ रहे हैं.

विदर्भ में फरवरी में 46000 कोरोना केस सामने आए. जबकि नवंबर में यहां 28,074 नए कोरोना केस दर्ज किए गए थे. वहीं दिसंबर में 25,177 और जनवरी में 21,065 केस दर्ज किए गए हैं. इसे लेकर मेडिकल एक्‍सपर्ट काफी चिंतित हैं कि कहीं ऐसा कोरोना के नए वैरिएंट के कारण तो नहीं हो रहा है.

फरवरी में विदर्भ में सामने आए कुल 46000 केस में से 30,000 से अधिक मामले महीने के अंतिम दस दिनों में देखने को मिले हैं. 21 फरवरी को विदर्भ में कोरोना वायरस संक्रमण के 2527 नए मामले सामने आए थे. यह उस दिन पूरे महाराष्‍ट्र में सामने आए कुल कोरोना संक्रमण के मामलों का 36.25 फीसदी था.
विदर्भ ने कोरोना वायरस संक्रमण के नए केस के मामले में मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन (MMR) को भी पछाड़ दिया है. महामारी के दौरान अब तक सबसे अधिक केस यहीं आ रहे थे. मुंबई में भी फरवरी में तीन महीने में सबसे अधिक केस देखे गए हैं. फरवरी के तीसरे हफ्ते में मुंबई में 1,167 नए कोरोना केस सामने आए थे. यह 119 दिनों में से सबसे अधिक थे.