नई दिल्ली राजस्थान में चल रही राजनीतिक उठापटक के बीच अब राज्यसभा सांसद डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा ने बयान देकर पारा और बढ़ा दिया है। डॉक्टर मीणा ने कांग्रेस पार्टी पर तंज कसते हुए कहा कि पायलट दिल्ली गए तीन-चार दिन रुक कर आए 50 से 60 फोन भी कर लिया लेकिन फिर भी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने उनका फोन नहीं उठाया। सचिन पायलट पार्टी में एक अहम भूमिका निभाते हैं लेकिन फिर भी उन्हें तवज्जो नहीं मिल रही है। यह राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट का अपमान है।


इतना ही नहीं बातों बातों में सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने प्रदेश उपमुख्यमंत्री को सुझाव भी दे डाला। सांसद किरोड़ी मीणा ने कहा कि उपमुख्यमंत्री एक स्वाभिमानी व्यक्ति हैं इसलिए उन्हें इतना अपमान नहीं सहना चाहिए। किरोड़ी मीणा ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी के इस रवैये को लेकर पायलट को जल्द ही ठोस निर्णय लेना चाहिए। 

डॉ. मीणा के इस बयान के बाद एक बार फिर से राजनीतिक गलियारे में चर्चा शुरू हो गई है। आपको बता दें कि कुछ दिन पहले सचिन पायलट दिल्ली गए थे और तीन-चार दिन रुके हुए थे इसी को लेकर राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने अपना बयान दिया है।

इन दिनों पायलट और गहलोत के बीच चल रही उठापटक के बाद पार्टी के नेताओं और निर्दलीय पार्षदों के बयान से भी राजस्थान की राजनीति में उबाल है। हाल ही में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव ने भी राजस्थान की राजनीति पर हमला बोला था। भाजपा महासचिव ने बयान दिया था कि सीएम गहलोत ने अपनी पुलिस और सीआईडी को सचिन पायलट के पीछे लगा रखा है और यही वजह है कि राजस्थान की व्यवस्था चौपट हो गई है।