गुवाहाटी । पूर्वोत्तर के असम में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शन के चलते पीएम नरेंद्र मोदी 10 जनवरी से होने वाले खेलो इंडिया गेम्स के उद्घाटन समारोह में शामिल नहीं होंगे। पीएम के कार्यक्रम के रद्द होने के पीछे समयाभाव का कारण बताया जा रहा है। हालांकि, यह भी माना जा रहा है कि इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन की अगुआई कर रहे ऑल स्टूडेंट्स यूनियन (एएएसयू) की चेतावनी के मद्देनजर पीएम का असम दौरा कैंसिल कर दिया गया है। ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री के गुवाहाटी आने की खबर ऐसे समय में आई थी, जब नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है। नए नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन की अगुआई कर रहे ऑल स्टूडेंट्स यूनियन (एएएसयू) ने तब मोदी के यहां आगमन की स्थिति में बड़े विरोध प्रदर्शन की चेतावनी दी थी। हालांकि, असम भाजपा के प्रवक्ता दीवान ध्रुब ने इस बारे में बताया कि पीएम का दौरा रद्द हो गया है क्योंकि उनके पास समय नहीं है।
ध्रुब ने कहा कि राज्य सरकार ने उनसे संपर्क किया, लेकिन वह समय नहीं निकाल सके। वहीं पार्टी के एक अन्य प्रदेश प्रवक्ता रूपम गोस्वामी ने बताया कि 'खेलो इंडिया यूथ गेम्स' का उद्घाटन करने के लिए मोदी को आमंत्रित करने के वास्ते प्रधानमंत्री कार्यालय को एक निमंत्रण भेजा गया था। जब उनसे पूछा गया था कि क्या मोदी ने असम की अपनी यात्रा रद्द कर दी है, तो उन्होंने कहा कि इस तरह की कोई बातचीत नहीं हुई कि प्रधानमंत्री खेलो इंडिया का उद्घाटन करने के लिए गुवाहाटी आ रहे हैं। गोस्वामी ने कहा कि प्रधानमंत्री को निमंत्रण भेजना एक औपचारिकता है। हमें पीएमओ से अपने निमंत्रण को लेकर कोई सूचना नहीं मिली है। वहीं, प्रदेश के वित्त मंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने पीएम के ऐसे किसी कार्यक्रम से ही इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, 'हमें प्रधानमंत्री का कोई कार्यक्रम नहीं मिला था। इसलिए जब पहले दौरा तय ही नहीं था, फिर रद्द कैसे हो सकता है?'