कोरबा । आयुक्त राहुल देव ने निगम के राजस्व अधिकारियों, निरीक्षकों व अन्य अमले को निर्देश देते हुए कहा है कि ओ.डी.एफ.प्लस-प्लस में रैंकिंग हेतु कोरबा शहर में शीघ्र ही टीम का दौरा होने वाला है, अपने शहर को ओ.डी.एफ. प्लस-प्लस में सम्मानजनक रैंकिंग मिले इस हेतु सार्वजनिक व सामुदायिक शौचालयों की स्वच्छता, साफ-सफाई व वहां की अन्य व्यवस्थाओं की नियमित मानीटरिंग करें तथा प्रतिदिन की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। 
नगर पालिक निगम कोरबा के मुख्य प्रशासनिक भवन साकेत में आज आयुक्त राहुल देव ने संबंधित अधिकारियों की बैठक ली, उन्होने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 एवं ओ.डी.एफ.प्लस-प्लस के तहत शहर की रैंकिंग निर्धारित करने के लिए टीमों का दौरा शीघ्र ही होने वाला है, जो विभिन्न बिन्दुओं के आधार पर अंक निर्धारित करेगा तथा इन्हीं अंकों के आधार पर शहर की रैंकिंग बनेगी। उन्होने कहा कि ओ.डी.एफ.प्लस-प्लस हेतु अतिशीघ्र टीम का दौरा होगा, जो अन्य व्यवस्थाओं के साथ-साथ प्रमुख रूप से सामुदायिक व सार्वजनिक शौचालयों की स्वच्छता व वहां की व्यवस्थाओं का सूक्ष्मता से निरीक्षण करेगा, अतः जिन अधिकारी कर्मचारियों की तैनाती नियमित निरीक्षण हेतु लगाई गई है, वे नियमित रूप से निरीक्षण करें तथा यह देखे कि चेकलिस्ट के अनुसार शौचालयों में स्वच्छता व सभी व्यवस्थाएं निरंतर बनी हुई है या नहीं। उन्होने कहा कि निरीक्षण हेतु 30 पैरामीटर निर्धारित किए गए हैं, वहीं सी.टी.पी.टी. की आई.ई.सी. हेतु 22 पैरामीटर निर्धारित हैं, अतः इन सभी पैरामीटर के आधार पर निरीक्षण करते हुए व्यवस्थाओं की सतत मानीटरिंग करें व नियमित रिपोर्ट करें। 
स्वच्छता महाअभियान में भी सहयोग दें - आयुक्त श्री देव ने कहा कि जिन अधिकारी कर्मचारियों की  तैनाती सामुदायिक व सार्वजनिक शौचालयों की निरीक्षण लगाई गई है, वे प्रातः निरीक्षण के पश्चात संबंधित वार्डो में चलाए जा रहे स्वच्छता महाअभियान के कार्य में भी अपना सहयोग दें। स्वच्छता महाअभियान के तहत किए जा रहे सफाई कार्यो की भी मानीटरिंग करें। 
अतिक्रमण के प्रति उदासीनता, शोकाज नोटिस जारी-   महाराणा प्रताप चैक बुधवारी बाजार से सियान सदन तक विभिन्न दुकानदारों के द्वारा मुख्य मार्ग के फुटपाथ पर अतिक्रमण करते हुए विक्रय सामग्रियां रखकर व्यवसाय किया जा रहा था, 29 नवम्बर को आयुक्त राहुल देव ने निरीक्षण के दौरान फुटपाथ पर किए गए उक्त अतिक्रमण को हटवाया था, साथ ही अर्थदण्ड भी आरोपित किया गया था। संबंधित जोन के राजस्व अधिकारी व उप जोन प्रभारी द्वारा उक्त अतिक्रमण की अनदेखी किए जाने, नियमित निरीक्षण नहीं किए जाने के फलस्वरूप अतिक्रमण को बढ़ावा मिला था, अतः आयुक्त श्री राहुल देव ने उप जोन प्रभारी अनिरूद्ध प्रताप सिंह को इस संबंध में शोकाज नोटिस जारी करते हुए जवाब हेतु तीन दिन का समय दिया है। इसी प्रकार महाराणा प्रताप चैक बुधवारी बाजार से सियान सदन तक मुख्य मार्ग पर कई स्थानों पर कचरे का ढेर पाया गया था, जिसे गंभीरता से लेते हुए आयुक्त श्री देव ने उक्त क्षेत्र के प्रभारी स्वच्छता पर्यवेक्षक श्री अंकैया को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया है।