भारत की महिला बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू को यहां प्रीमियर बैडमिंटन लीग के पांचवें सत्र की नीलामी में हैदराबाद हंटर्स ने सबसे ज्यादा 77 लाख रुपये की बोली लगायी है। इससे पहले दुनिया की नंबर एक महिला खिलाड़ी चीनी ताइपे की ताइ जू यिंग के लिए गत चैंपियन बेंगलुरू रैपटर्स ने 77 लाख रुपए की संयुक्त रूप से सर्वोच्च बोली लगाई। रैपटर्स ने बोली में पुणे 7 एसेस को पछाड़कर यिंग को अपने साथ जोड़ा। वहीं इसके अलावा भारत के शीर्ष पुरुष बैडमिंटन खिलाडिय़ों में शामिल बी साई प्रणीत को रैपटर्स की टीम ने 32 लाख रुपए में अपने साथ जोड़ा।
इसके अलावा चेन्नई सुपरस्टार्ज ने पुरुष युगल खिलाड़ी बी सुमित रेड्डी को 11 लाख रुपए जबकि पुणे 7 एसेस ने चिराग शेट्टी को 15 लाख 50 हजार रुपए खर्च करके अपने साथ रखा है। दुनिया की नौवें नंबर की अमेरिकी महिला एकल खिलाड़ी बेइवान झेंग भी अवध वारियर्स के साथ बकरार रहेंगी जिनके लिए टीम ने 39 लाख रुपए खर्च किए। राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद की बेटी गायत्री गोपीचंद को चेन्नई की टीम ने लिया जबकि असम की युवा खिलाड़ी अश्मिता चालिहा को उनकी घरेलू टीम नार्थ ईस्टर्न वारियर्स ने तीन लाख रुपए में खरीदा।
पीबीएल का अगला सत्र 20 जनवरी से 9 फरवरी तक खेला जाएगा जिसमें 74 भारतीय खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। बेंगलुरू, चेन्नई, हैदराबाद और लखनऊ में होने वाली इस 21 दिवसीय प्रतियोगिता में 7 टीमें अवध वारियर्स (लखनऊ), बेंगलुरु रेपटर्स (बेंगलुरु), मुंबई राकेट्स (मुंबई), हैदराबाद हंटर्स (हैदराबाद), चेन्नई सुपरस्टार्ज (चेन्नई), नार्थ ईस्टर्न वारियर्स (पूर्वोत्तर) और पुणे 7 एसेस (पुणे) की टीमें हिस्सा लेंगी।
प्रत्येक फ्रेंचाइजी के पास खर्च करने के लिए दो करोड़ रुपए थे लेकिन वे एक खिलाड़ी पर 77 लाख रुपए से अधिक खर्च नहीं कर सकती थी। टीम में अधिकतम 11 खिलाड़ी हो सकते हैं जिसमें अधिकतम 6 विदेशी खिलाड़ी और कम से कम तीन महिला खिलाड़ी होनी चाहिए। पीबीएल के आगामी सत्र में पिछली बार वाला प्रारूप बरकरार रहेगा जिसमें प्रत्येक मुकाबले में पांच मैच (दो पुरुष एकल, एक महिला एकल, एक पुरुष युगल और एक मिश्रित युगल) होंगे।