आगरा । आगरा की ताजगंज पुलिस ने इंसानियत और मानवता की एक नई मिसाल पेश की है। चार दिन पहले आगरा में रह रही थाइलैंड की महिला ने बेरोजगारी से तंग आकर आत्महत्या कर ली। सूउसके परिवार से कोई नहीं आया तो उसके अंतिम संस्कार का जिम्मा थाना ताजगंज पुलिस ने लिया। अपने सूइसाइड नोट में भी मृतक महिला ने यही इच्छा व्यक्त की थी। गौरतलब है ‎कि चार दिन पहले थाना ताजगंज क्षेत्र के आगरा-फतेहाबाद मार्ग स्थित हेरिटेज अपार्टमेंट के फ्लैट संख्या बी-22 में रहने वाली थाइलैंड की महिला अंजली ने आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने सूइसाइड नोट बरामद किया। नोट में अंजली ने आत्महत्या की वजह आर्थिक तंगी बताई। उसने इच्छा जताई कि उसका अंतिम संस्कार ताजनगरी आगरा में ही किया जाए और उसकी अस्थियों का विसर्जन यमुना में किया जाए। इतना ही नहीं विदेशी महिला अंजली ने अपने सूइसाइड नोट में आई लव इंडिया, आई लव यू आगरा का भी जिक्र किया था। विदेशी महिला के अंतिम संस्कार का जिम्मा लेने वाली थाना ताजगंज पुलिस ने सबसे पहले औपचारिकताएं पूरी कीं। विदेशी महिला की सूइसाइड की जानकारी विदेश मंत्रालय को दी गई। रिपोर्ट आने के बाद शनिवार को थाना ताजगंज पुलिस ने पोस्टमॉर्टम कराया और पोस्टमॉर्टम कराने के बाद थाना ताजगंज के श्मशान घाट पर हिंदू रीति-रिवाजों के साथ विदेशी महिला का अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम संस्कार के दौरान अंजली के परिचित स्थानीय निवासी संदीप सिंह ने चिता को मुखाग्नि दी। ताजगंज पुलिस का कहना है कि अंतिम संस्कार के बाद के तेहरवीं तक के सभी संस्कार शास्त्र सम्मत तरीके से थाना पुलिस पूरे करेगी। विदेशी महिला के अंतिम संस्कार की खबर की चर्चा पूरे शहर में रही।