नई दिल्ली । केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कहा कि भारत-पाक सीमा के पास सुरंगों एवं ड्रोनों का मिलना भारत के खिलाफ पड़ोसी देश की शत्रुता का सबूत है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के 56वें स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह में बीएसएफ को संबोधित करते हुए कहा कि सीमा के पास ‘‘अनिश्चितता का माहौल है, क्योंकि सीमा पार से संघर्ष विराम समझौतों का आएं दिन उल्लंघन किया जाता है। राय ने कहा, हमारा पड़ोसी भारत-पाकिस्तान सीमा के पास हथियारों एवं नशीले पदार्थों की तस्करी और घुसपैठ को बढ़ावा देने के लिए इस प्रकार की गतिविधियां कर रहा है। उन्होंने कहा कि सुरंगों और ड्रोनों का मिलना उस देश की शत्रुता का सबूत है। राय ने दुर्गम इलाकों और खराब मौसम के बावजूद सीमाओं की रक्षा करने के लिए बीएसएफ की प्रशंसा की। अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह किसी ‘‘महत्वपूर्ण आधिकारिक काम’’ के कारण समारोह में शामिल नहीं हो सके, जिसके बाद राय को समारोह का मुख्य अतिथि बनाया गया। दक्षिण पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में बीएसएफ शिविर में परेड कार्यक्रम दो घंटे से अधिक देरी से आरंभ हुआ। बीएसएफ की एक दिसंबर, 1965 को स्थापना की गई थी। बीएसएफ पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा की रक्षा करता है।