चंडीगढ़ |  कोरोना मामलों में आई गिरावट के बाद अब सरकार ने उड़ानों की कैपेसिटी कैप्स हटाने का फैसला लिया है। आगामी 18 अक्टूबर से विमान अपनी 100 फीसद यात्री क्षमता के साथ उड़ान भर सकेंगेहालांकि उड़ान के दौरान कोविड-19 की गाइडलाइंस का पूरी तरह से पालन करना होगा।

बता दें फेस्टिवल सीजन में यात्रियों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए नागरिक उड्ड्यन मंत्रालय ने यह फैसला लिया है। इससे विमानन कंपनियों को फायदा होगाइसके साथ यात्रियों को भी सस्ती टिकट मिलेगी।

एयरपोर्ट से रोजाना बढ़ रही है यात्रियों की संख्या

फेस्टीवल सीजन औऱ कोरोना संक्रमण के मामले कम आने से एक बार फिर चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर यात्रियों की आवाजाही बढ़ने लगी है। चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट के जनसंपर्क अधिकारी प्रिंस ने बताया कि कि दो तीन महीने पहले तक जहां चंडीगढ़ एयरपोर्ट से रोजाना यात्रियों की आवाजाही 1200 से 1500 के बीच थीवहीं अब यात्रियों की संख्या 6000 के पार जाने लगी है। बता दें लॉकडाउन से पहले एयरपोर्ट से रोजाना 15 से 20  हजार लोगों की आवाजाही थी।

20 शहरों से एयरपोर्ट की सीधी फ्लाइट

मौजूदा समय में चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स से 41 फ्लाइट्स का संचालन हो रहा है। अहमदाबाददिल्लीमुंबई, कोलकातालखनऊश्रीनगरअहमदाबाद, गोवाबेंगलुरुहैदराबादकुल्लूपुणेधर्मशालालेहलखनऊ, कोलकाताहिसारदेहरादूनधर्मशाला और शिमला जैसे शहरों के लिए एयरपोर्ट से सीधी फ्लाइट है।