उज्जैन का लाल सियाचिन में शहीद, इंदौर एयरपोर्ट पर दी गई श्रद्धांजलि
 

 उज्जैन जिले के नागदा निवासी शहीद बादल सिंह के पार्थिव देह को देर रात इंदौर एयरपोर्ट पर लाया गया,जहां विधि विधान से उन्हें श्रद्धांजलि दी गई,इस दौरान इंदौर शहर के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही गणमान्य नागरिक मौजूद रहे, इसके बाद सड़क मार्ग से शहीद का शव उनके गृह ग्राम भेजा गया. जहां आज शहीद का अंतिम संस्कार किया जाएगा

नागदा निवासी बादल सिंह चंदेल कुमाऊं रेजिमेंट में तैनात थे सियाचिन में काफी ऊंचाई वाले हिस्से पर तैनाती के दौरान ग्लेशियर टूटने से बर्फ में दब गये थे,जिससे उनकी जान चली गई.शहीद बादल सिंह के परिवार में उनके माता- पिता,पत्नी और साढ़े तीन साल का बेटा भी है सेना के विशेष विमान से पार्थिव देह को पहले इंदौर एयरपोर्ट पर लाया गया,जहां पर श्रद्धांजलि देने के बाद सड़क मार्ग से शव को शहीद के गृह ग्राम भेजा गया

जवानों के कंधे पर शहीद

नागदा का लाल सियाचिन में शहीद: बर्फ धंसने से हुआ हादसा

इंदौर एयरपोर्ट देश के कई हिस्सों से सीधा जुड़ा है, साथ ही आसपास के कई शहरों और जिलों में यहां से आसानी से पहुंचा जा सकता है,इंदौर के आसपास का कोई भी सेना का जवान बॉर्डर या अन्य कारणों से शहीद होता है तो सबसे पहले इंदौर एयरपोर्ट पर ही सेना के प्लेन के माध्यम से उसके शव को लाया जाता है, जहां पर श्रद्धांजलि देने के बाद उसके गृह ग्राम भेजा जाता है.