फतेहपुर. रेप (Rape) के बाद पीड़िता को जिंदा जलाने वाले आरोपी मेवालाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी मेवालाल रिश्ते में पीड़िता का चाचा लगता है. वारदात को अंजाम देने के बाद से ही आरोपी परिवार सहित फरार हो गया था. सीओ सिटी की अगुआई में गठित टीम ने यह गिरफ्तारी की.

बता दें कि फतेहपुर के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में शनिवार को एक युवती के साथ रेप के बाद आग लगा दी गई थी. करीब 75 फ़ीसदी तक झुलस चुकी युवती को गंभीर हालत में कानपुर के हैलट अस्पताल में एडमिट कराया गया है. एफआईआर के मुताबिक, अनुसूचित जाति की युवती सुबह घर में अकेली थी. आरोप है कि पड़ोस में रहने वाला रिश्ते का चाचा मेवालाल सुबह 10 बजे घर में घुसकर युवती के साथ रेप किया. इसके बाद उसने केरोसिन डालकर आग लगा दी. आग लगने के बाद खुद को बचाने के लिए युवती बाहर की ओर भागी. युवती की चीख-पुकार सुनकर ग्रामीणों ने आग बुझाया और पुलिस को घटना की सूचना दी थी.

डीएम बोले- पंचायत के फैसले से दुखी होकर लगाई आग


हालांकि, मामले पर जिलाधिकारी संजीव सिंह ने कहा कि दोनों के बीच करीब दो साल से प्रेम संबंध थे. शनिवार सुबह पंचायत में लड़की की शादी दूसरे जगह तय करने के फैसले से क्षुब्ध होकर युवती ने कमरे में जाकर खुद को आग लगा ली.
भाई ने लगाया दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाने का आरोप

एसपी प्रशांत वर्मा ने बताया कि भाई ने रिश्ते के चाचा पर दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाने का आरोप लगाया है. इस मामले में भाई की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एसपी ने बताया कि मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई की जा रही है.