नई दिल्ली । टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली वर्तमान समय में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माने जाते हैं पर क समय ऐसा था जब आईपीएल में कोहली को एक ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने इतना परेशान किया कि उन्हें समझ ही नहीं आता कि वह क्या करें। यह गेंदबाज कोई और नहीं बल्कि दिग्गज स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न थे। साल 2009 में कोहली रॉयल चैंलेजर्स बैंगलोर की ओर से खेलते थे, वहीं वार्न वॉर्न राजस्थान रॉयल्स के कप्तान थे।  विराट ने भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री के साथ लाइव वीडियो में कहा कि साल 2009 में वह वॉर्न के सामने टिक ही नहीं पाते थे। विराट ने इंस्टाग्राम पर लाइव सत्र में कहा, 'आईपीएल 2009 के दौरान मैं वॉर्न के सामने बेवकूफ नजर आता था हालांकि इसके बाद मैंने 2011 में उनके खिलाफ मैच खेला तब वहां कुछ खास नहीं हुआ। उन्होंने मुझे आउट नहीं किया न ही मैंने उनके खिलाफ कुछ ज्यादा रन बनाए। मैच के बाद वॉर्न मेरे पास आए और बोले कि गेंदबाज के पीठ पीछे कभी कुछ मत कहना लेकिन मैं इस पर हंस दिया था और उस बात को सुना ही नहीं।' वहीं फिटनेस को लेकर आए बदलाव का श्रेय अन्होंने ट्रेनर शंकर बासु को दिया है।