मेरठ । प्रेम संबंध का विरोध करने पर बड़ौत के बिजरौल गांव निवासी एक युवक की अगवा कर पत्नी के प्रेमी ने गोली मारकर हत्या कर दी और शव को काजमाबाद गून के जंगल में फेंक दिया। पत्नी मोनिसा उर्फ मनी को हिरासत में लेकर बड़ौत पुलिस ने खरखौदा थाना क्षेत्र के गांव खड़खड़ी निवासी आरोपित नागेंद्र और उसके एक साथी की तलाश में कई स्थानों पर दबिश दी।

शव फेंकते देखकर शोर मचाया

परतापुर थाना क्षेत्र के काजमाबाद गून गांव के जंगल में सोमवार दोपहर स्कार्पियो सवार लोगों ने सतवीर की ट्यूबवेल के पास सड़क किनारे एक युवक का शव फेंक दिया। इसी दौरान स्कूल से लौट रहे छात्रों ने स्कार्पियो सवार लोगों को शव फेंकते देखकर शोर मचा दिया। आरोपित नमक फैक्ट्री से स्कार्पियो को मोड़कर भाग गए। छात्रों के शोर मचाने पर आसपास जंगल में काम कर रहे लोग मौके पर पहुंच गए। उन्होंने गांव प्रधान और प्रधान ने परतापुर पुलिस को जानकारी दी। एएसपी विवेक यादव और इंस्पेक्टर शैलेंद्र प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे।

पुलिस के मुताबिक, युवक की गर्दन में गोली लगी हुई थी। आसपास के जनपदों में मृतक की फोटो भेजकर पुलिस ने पहचान करने का प्रयास किया। कुछ ही घंटे बाद युवक की पहचान बागपत जिले के बड़ौत थाने के बिजरौल गांव निवासी वरुण कुमार पुत्र ऋषिपाल तोमर के रूप में हुई। वरुण की बड़ौत से अगवा कर काजमाबाद गून में हत्या की गई। बड़ौत पुलिस की जांच में सामने आया कि वरुण की पत्नी मोनिसा के प्रेमी नागेंद्र ने सोमवार सुबह पांच बजे वरुण को घर से अगवा किया था।