छत्तीसगढ़ के जांजगीर में शुक्रवार सुबह एक युवक का संदिग्ध हालत में शव तालाब में तैरता हुआ मिला। युवक देर शाम से अपने घर से गायब था। ग्रामीणों की नजर शव पर पड़ी तो उसे देखने के लिए सैकड़ों की संख्या में गांव वाले उमड़ पड़े और भीड़ लग गई। जबकि, इलाके में कोरोना संक्रमण बुरी तरह से फैला हुआ है।

पामगढ़ थाना क्षेत्र के मुलमुला गांव निवासी संतोष केवट (30) बाहर काम करता था। जून में वह काम अचानक से घर लौट गया। बताया जा रहा है कि दो-चार दिनों से उसका अपने घर में किसी बात को लेकर झगड़ा हो रहा था। गुरुवार शाम भी परिवार वालों के साथ उसका झगड़ा हुआ तो शाम करीब 7 बजे घर से निकल गया।

सुबह ग्रामीण बाहर निकले तो नया तालाब में संतोष का शव तैर रहा था। इस पर पुलिस को सूचना दी गई। जिसके बाद घर वालों को बुलाकर शिनाख्त कराई गई। बताया जा रहा है कि संतोष शराबी किस्म का था। उसके तीन बच्चे हैं, 2 लड़कियां और एक लड़का। संतोष घर मे अकेला कमाने वाला सदस्य था। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।