Sunday, January 29, 2023
Homeखबरेंफुगड़ी खिलाड़ियों ने सब को किया अचम्भित

फुगड़ी खिलाड़ियों ने सब को किया अचम्भित

रायपुर : छत्तीसगढ़ ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खेलों के साथ ही पारंपरिक खेलों के आयोजनों से अपनी एक नई पहचान बनाई है। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल की पहल और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  उमेश पटेल के मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के आयोजन ने युवा से बुजुर्ग वर्ग तक के आमजनों के अंदर ऊर्जा का संचार कर दिया है।

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक

छत्तीसगढ़िया ओलंपिक के दूसरे दिन सरदार बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में फुगड़ी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। फुगडी, व्यक्तिगत खेल है। फुगड़ी खेलने के लिए पंजे के बल बैठ जाते हैं। फुगड़ी खेलते समय दोनों हाथ जमीन से ऊपर रहते हैं। फुगड़ी खेलने की प्रक्रिया इस तरह से होता है पहले दाहिने पैर को आगे तथा बाये पैर को पीछे सरकाते हैं फिर बांये पैर को आगे सरकाने के साथ ही दाहिने पैर को पीछे सरकाते हैं, और ऐसे ही बार-बार किया जाता है। दाहिना पैर आगे होता है तो बांया हाथ आगे एवं बायां पैरआगे होता है तो दाहिना हाथ आगे होता है। उक्त समय ऐसा प्रतीत होता है जैसे प्रतिभागी दौड़ रहा। जो अधिक समय तक फुगड़ी खेलता है वही विजेता होता है।

फुगड़ी एकल प्रतियोगिता में जहां एक ओर पुरूष वर्ग में 18 वर्ष से कम आयु समूह में रायपुर संभाग के एवन पटेल ने प्रथम, बिलासपुर संभाग के मनहरण केंवट ने द्वितीय और सरगुजा संभाग के जयकुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 18 से 40 वर्ष के पुरुष वर्ग में रायपुर संभाग के आकाश विश्वकर्मा प्रथम, बिलासपुर संभाग के सुनील पटेल द्वितीय और दुर्ग संभाग के दुलेश्वर साहू तृतीय स्थान पर रहे, तो वहीं 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में रायपुर संभाग के भुनेश्वर साहू ने प्रथम, दुर्ग संभाग के रामूदास पात्रे ने द्वितीय और तृतीय स्थान पर बिलासपुर संभाग के रविशंकर साहू ने अपना स्थान पक्का किया।

दूसरी ओर महिला वर्ग में 18 वर्ष से कम उम्र की बालिका वर्ग में दुर्ग संभाग की स्नेहा पटेल प्रथम, रायपुर एवं बस्तर संभाग की अंकिता एवं खेमेश्वरी कोडोपी ने संयुक्त रूप से द्वितीय और बिलासपुर संभाग की अंशु साहू ने तृतीय स्थान हासिल किया। 18-40 वर्ष आयु समूह में दुर्ग संभाग की मनीषा ने प्रथम, रायपुर संभाग की रेणुका साहू ने द्वितीय और बिलासपुर संभाग की मानमति ने तृतीय स्थान प्राप्त किया, इसी प्रकार 40 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में रायपुर संभाग की आशो बाई ने पहला, बिलासपुर संभाग की शाहिन बाई ने दूसरा एवं बस्तर संभाग की गंगावती प्रधान ने तीसरा स्थान प्राप्त किया।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के परंपरागत खेलों को बढ़ावा देने के लिए छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की शुरूआत की है, जिसका आयोजन अब प्रत्येक वर्ष होगा। छत्तीसगढ़िया ओलंपिक की शुरूआत 06 अक्टूबर 2022 से राजीव गांधी युवा मितान क्लब स्तर से प्रारंभ होकर विभिन्न स्तरों से होते हुए अपने अंतिम पड़ाव राज्य स्तरीय तक पहुंच चुका है, जिसका आयोजन 10 जनवरी 2023 तक होगा।
 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group