Wednesday, December 7, 2022
Homeखबरेंकिसको मिलेगी गहलोत की विरासत? विधायक दल की बैठक आज

किसको मिलेगी गहलोत की विरासत? विधायक दल की बैठक आज

जयपुर/नई दिल्ली: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद आज जयपुर में कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. इस बैठक में अशोक गहलोत की विरासत किसे सौंपी जाए, इस पर चर्चा होने के आसार हैं और संभवत: विधायक दल अपने नए नेता का चुनाव करे. यह बैठक ऐसे समय बुलाई गई है जब ऐसी चर्चा है कि गहलोत के कांग्रेस अध्यक्ष बन जाने की स्थिति में राज्य में नेतृत्व परिवर्तन हो सकता है.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  •     कांग्रेस विधायक दल की बैठक रविवार शाम 7 बजे बुलाई गई है. पार्टी महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अजय माकन तथा वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे इस बैठक में बतौर पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे. पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने ट्वीट किया, ‘‘राजस्थान में 25 सितंबर को कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए प्रभारी महासचिव अजय माकन के साथ मल्लिकार्जुन खड़गे पर्यवेक्षक होंगे.''
  •     कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाए जाने से पहले गहलोत ने गत शुक्रवार को स्पष्ट रूप से कहा था कि वह पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव में उम्मीदवार होंगे और मुख्यमंत्री पद से उनके हटने की स्थिति में पार्टी नेतृत्व यह फैसला करेगा कि इस जिम्मेदारी को कौन संभालेगा.
  •     कांग्रेस के नेतृत्व के संदर्भ में राहुल गांधी के ‘एक व्यक्ति, एक पद' वाले बयान और चुनाव जीतने की सूरत में राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में उनके संभावित उत्तराधिकारी के बारे में पूछे जाने पर गहलोत ने कहा था कि मौजूदा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और राजस्थान में पार्टी मामलों के प्रभारी अजय माकन इस संबंध में निर्णय लेंगे.
  •     दरअसल, राहुल गांधी ने पिछले दिनों केरल में संवाददाता सम्मेलन के दौरान यह उम्मीद जताई थी कि ‘उदयपुर चिंतन शिविर' में तय हुई ‘एक व्यक्ति, एक पद' की व्यवस्था पर पूरी तरह अमल किया जाएगा.
  •     इससे पहले ही, कांग्रेस अध्यक्ष पद के एक संभावित उम्मीदवार के रूप में देखे जा रहे अशोक गहलोत ने यह संकेत दिया था कि वह अध्यक्ष पद और राजस्थान के मुख्यमंत्री का पद दोनों संभाल सकते हैं. बाद में गहलोत ने कहा कि उनकी टिप्पणी को गलत ढंग से प्रस्तुत किया गया.
  •     माना जा रहा है कि कांग्रेस का अध्यक्ष चुने जाने पर गहलोत को मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ सकता है, हालांकि इसको लेकर अभी अनिश्चितता बनी हुई कि उनके हटने पर सचिन पायलट मुख्यमंत्री होंगे या फिर गहलोत की पसंद का ही कोई नेता इस जिम्मेदारी को संभालेगा.
  •     सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक में इस विषय पर कुछ न कुछ फैसला हो सकता है. सूत्रों का कहना है कि शनिवार को अजय माकन ने सोनिया गांधी से मुलाकात की और राजस्थान से जुड़े मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की थी.
  •     उधर, मुख्यमंत्री बनने की उम्मीद लगाए हुए कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने शुक्रवार को जयपुर में राजस्थान विधानसभा अध्‍यक्ष सी पी जोशी और कई विधायकों से मुलाकात की थी.पार्टी के सूत्रों के अनुसार, पायलट मुख्यमंत्री पद के लिए मुख्य दावेदार हैं, लेकिन जोशी के नाम पर भी चर्चा चल रही है.
  •     कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया 24 से 30 सितंबर तक चलेगी. नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है. एक से अधिक उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और नतीजे 19 अक्टूबर को घोषित किये जाएंगे.
  •     इस बीच, मुख्यमंत्री गहलोत रविवार को जैसलमेर के तनोट मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे. वह सुबह साढ़े 11 बजे जयपुर से रवाना होंगे और शाम साढ़े चार बजे जयपुर लौटेंगे.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group