Tuesday, December 6, 2022
Homeराजनीति भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से मैं महाराष्ट्र के लोगों  के दर्द...

 भारत जोड़ो यात्रा के माध्यम से मैं महाराष्ट्र के लोगों  के दर्द को समझने के लिए आया हूं- राहुल गांधी

नांदेड़। कन्याकुमारी से कश्मीर तक चलने वाली भारत जोड़ो यात्रा का उद्देश्य देश को जोड़ना है। देश में इस समय नफरत फैलाई जा रही है। ऐसे में भारत को तोड़ने के खिलाफ भारत जोड़ो यात्रा शुरू की गई  है। कश्मीर तक इस मार्च को अब  कोई नहीं रोक सकता है। यह आवाहन कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने सोमवार की रात नांदेड़ पहुंचने के बाद किया। उन्होंने कहा कि इस पदयात्रा के दौरान मैं अगले 14 दिनों के लिए महाराष्ट्र का दौरा कर यहां के लोगों की पीड़ा को समझने का काम करूंगा। सोमवार की रात हजारों मशाल लेकर राहुल गांधी के साथ पार्टी कार्यकर्ता और नेता तेलंगाना से महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले के देगलूर में दाखिल हुए। तेलंगाना से महाराष्ट्र पहुंचते ही तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले को तिरंगा झंडा सौंपा। इस मौके पर राहुल गांधी का मराठा अंदाज में जोरदार अभिनंदन किया गया। इस मौके पर राहुल गांधी ने देगलूर में हजारों की भीड़ को संबोधित किया। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत 'छत्रपति शिवाजी महाराज की जय' की घोषणा से की। राहुल गांधी ने आगे कहा कि यह गर्व की बात है कि वह छत्रपति शिवाजी महाराज का आशीर्वाद लेकर महाराष्ट्र में पदयात्रा शुरू कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज देश में कई ज्वलंत समस्याएं हैं लेकिन केंद्र सरकार उन पर ध्यान नहीं दे रही है।  यह सरकार केवल चार या पांच पूंजीपतियों के लिए काम कर रही है। नोटबंदी ने देश में छोटे व्यवसायों को ठप कर दिया। 400 रुपये का गैस सिलेंडर 1100 रुपये और पेट्रोल, डीजल 100 रुपये लीटर हो गया है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके बारे में एक शब्द भी नहीं कह रहे हैं। राहुल गांधी की अगवानी के लिए मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और  राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के प्रमुख जयराम रमेश, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव अविनाश पांडे, राज्य प्रभारी एच. के. पाटिल, प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले, विधायक दल के नेता और भारत जोड़ो यात्रा के महाराष्ट्र समन्वयक बालासाहेब थोरात, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण, सुशील कुमार शिंदे, पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे, पूर्व मंत्री सुनील केदार, पूर्व राज्य मंत्री बंटी पाटिल, विश्वजीत कदम, मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष भाई जगताप, आदिवासी संभाग के अध्यक्ष शिवाजीराव मोघे, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष नसीम खान, प्रणीति शिंदे, रजनी पाटिल, कुमार केतकर, पूर्व सांसद हुसैन दलवई, संजय निरुपम, शिवसेना के पूर्व सांसद सुभाष वानखेड़े, अमर राजुरकर, वजाहत मिर्जा, मुंबई युवा कांग्रेस के अध्यक्ष. जीशान सिद्दीकी, उपाध्यक्ष मोहन जोशी, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं सह प्रभारी संपत कुमार, आशीष दुआ, मुंबई कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष चरणजीत सिंह सप्रा समेत कई नेता उपस्थित थे। राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के आराध्य देवता छत्रपति शिवाजी महाराज, महात्मा बसवेश्वर, महात्मा ज्योतिबा फुले, महापुरुष डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर, पुण्यश्लोक अहिल्यादेवी होलकर, अन्नाभाऊ साठे की प्रतिमाओं पर  माल्यार्पण कर उनका अभिवादन किया। तेलंगाना के कामारेड्डी से जुलूस का देगलूर में बड़े उत्साह और उल्लास के साथ स्वागत किया गया। नांदेड़ इलाके की सभी सड़कों से लोग भारी संख्या में  राहुल गांधी के स्वागत के लिए वहां पहुंचे। देगलुर से राहुल गांधी गुरुद्वारा यादगार साहिबजादे बाबा जोरावर सिंह जी बाबा फतेहसिंहजी का आशीर्वाद लेने के लिए वन्नाली के लिए पैदल रवाना हुए। इस दौरान करीब चार हजार कार्यकर्ता मशाल के साथ मौजूद  रहे। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group