Tuesday, October 4, 2022
Homeराजनीतिमहंगाई के विरोध में कांग्रेस ने गैस-सिलेंडर का अंतिम संस्कार किया, स्मृति...

महंगाई के विरोध में कांग्रेस ने गैस-सिलेंडर का अंतिम संस्कार किया, स्मृति ईरानी पर साधा निशाना

शिमला । महंगाई को लेकर कांग्रेस ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। लगातार बढ़ रही महंगाई के विरोध में कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय में घरेलू गैस सिलेंडर का अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह, राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा और महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल ने गैस-सिलेंडर की पूजा कर इसका अंतिम संस्कार किया।
कांग्रेस के निशाने पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी रही। इस मौके पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा कि स्मृति ईरानी ने 15 जून 2020 को कहा था कि हिमाचल प्रदेश में 2018-19 में उज्जवला योजना के तहत 1.36 लाख गैस कनेक्शन दिए गए हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि हिमाचल में 2018-19 में मात्र 83,177 सिलेंडर ही रिफिल हुए। उन्होंने कहा कि सिलेंडर महंगा होने के कारण 2021-22 में मात्र 9415 सिलेंडरों में ही गैस भरवाई गई।
उन्होंने कहा कि केद्र सरकार ने चुनाव को देखते 2019 में गैस पर 37209 करोड़ की सब्सिडी भी दी, लेकिन 2022 में मात्र 242 करोड़ की सब्सिडी ही दी। उन्होंने कहा कि सरकार के सौ फीसदी गैस कनेक्शन के दावों के विपरीत हिमाचल में 51.7 फीसदी ही घरों में रसोई गैस है। प्रतिभा सिंह ने कहा है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी एक बार फिर हिमाचल लोगों को गुमराह और झूठे वादे करने आ रही हैं। स्मृति ईरानी का शनिवार को रामपुर में दौरा है।
प्रतिभा सिंह ने कहा कि इससे पहले जब स्मृति ईरानी हिमाचल आई थीं तो उन्होंने मनमोहन सरकार के समय में 450 रुपये के गैस के सिलेंडर को मंहगा बताया था, इसके साथ ही स्मृति ये वादा भी कर गई थीं कि केंद्र में भाजपा सरकार के बनते ही सिलेंडर की कीमतें कम कर दी जाएंगी, लेकिन दाम कम करने की बजाए बढ़ाई गई सब्सिडी भी बंद कर दी।
प्रतिभा सिंह ने कहा कि केंद्र में सता में आते ही केंद्र सरकार ने रसोई गैस की कीमतें कम करने की बजाए इनकी कीमतें बढ़ाकर आम लोगों पर मंहगाई का बोझ डाला, हालात यह है कि आज रसोई गैस का सिलेंडर 1100 रुपये से पार जा चुका है। हिमाचल में लोगों को उज्जवला और मुख्यमंत्री गृहिणी योजना के तहत फ्री में गैस कनेक्शन देने का भाजपा हर मंच से बखान कर रही है लेकिन मंहगे होने से महिलाएं गैस नहीं भर पा रही है, ये सिलेंडर अब चूल्हों पर ठंडे पड़ गए हैं।
इस अवसर पर कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने कहा महंगाई और एलपीजी की बढ़ती कीमतों की वज़ह से हिमाचल की महिलाएं उज्ज्वला योजना के तहत मिले और अब खाली पड़े सिलेंडरों को स्मृति ईरानी को वापस लौटाना चाहती है। उज्जवला योजना के तहत मिले घरेलू गैस सिलेंडर अब बंद पड़े हैं। बंद पड़े इन सिलेंडरों को महिलाएं स्मृति ईरानी को उनके रामपुर दौरे के दौरान लौटाएंगी, वे मांग करेंगी कि या तो गैस के रेट कम हों या इनको सरकार वापस ले। कांग्रेस नेत्रियों ने कहा कि मोदी सरकार अब मंहगाई और रोजगार का जिक्र नहीं कर रही है। सरकार ने खाने की वस्तुओँ पर भी जीएसटी लगा दिया है। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments