Monday, April 22, 2024
Homeदेशचारधाम की हेली सर्विस यात्रा हुई महंगी

चारधाम की हेली सर्विस यात्रा हुई महंगी

हेली सर्विस : उत्तर भारत स्थित चारों धाम की यात्रा शुरू होने वाली है क्योंकि केदारनाथ सहित सभी चारों धामों के कपाट खुलने की तारीखों का ऐलान हो चुका है ऐसा में पूरे भारत से भक्त चारों धाम की यात्रा के लिये जरूरी जानकारी लेने लगे हैैं। भारत में चार धाम यात्रा को बहुत ही पवित्र माना जाता है। लाखों भक्त हर साल कपाट खुलने के बाद इन चारों धामों की यात्रा पर निकलते हैैं। लेकिन इस बार उत्तराखंड में होने वाली इन चारधाम यात्रा भक्तों को महंगी पडऩे वाली है। केदारनाथ, बदरीनाथ, गंगौत्री, युमनौती समेत सभी चार धामों की यात्रा के लिये देश के सभी प्रदेशों से तीर्थयात्री भगवान के दर्शन करने यहां आते हैैं। आगामी यात्रा सीजन में केदारनाथ धाम हेली सेवा किराया पिछले साल के मुकाबले बढ़ेगा। केदारनाथ हेली सेवा के किराये में पांच फीसदी तक बढ़ोतरी होगी। इस बार भी टिकट बुकिंग आईआरसीटीसी वेबसाइट के जरिए ही होगी। केदारनाथ सहित चारों धामों के कपाट खुलने की तिथियां घोषित हो चुकी हैं। इसी के साथ उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण (यूकाडा) के पास देशभर से हेली टिकट बुकिंग की पूछताछ आने लगी है। यूकाडा पिछले साल ही धाम के लिए तीन साल त सेवा देने के लिए ऑपरेटर और किराया तय कर चुका है। तय शर्त के अनुसार ऑपरेटर बेसिक किराए में प्रतिवर्ष पांच प्रतिशत की बढ़ोतरी कर पाएंगे, इस तरह इस बार मौजूदा किराए में पांच प्रतिशत की ही बढ़ोतरी हो पाएगी। पिछले साल हेली सेवाओं का एक तरफ का किराया सिरसी से 2749, फाटा से 2750 और गुप्तकाशी से 3870 रुपये तय किया गया था।

9 आपरेटर हेली सेवाएं देंगे

इस बार भी केदारनाथ में नौ ऑपरेटर ही सेवाएं देंगे। इसमें एक मात्र बदलाव ट्रांसभारत के रूप में हुआ है, जिसने केस्ट्रल एविएशन की जगह ली है। गत वर्ष यात्रा शुरू होने से ठीक पहले केदारनाथ धाम में हेलीकॉप्टर रोटर की चपेट में आने से यूकाडा के वित्त नियंत्रक की मौत हो गई थी। इसके बाद यूकडा ने संबंधित हेली कंपनी केस्ट्रल पर रोक लगा दी है। लेकिन एक ऑपरेटर कम होने से अन्य कंपनियों पर दबाव बढ़ गया था, इस कारण इस बार यूकाडा ने नया टेंडर जारी करते हुए केस्ट्रल एविएशन की जगह अब ट्रांसभारत को मौका दिया है। यूकाडा के सीईओ अपर सचिव सी रविशंकर ने बताया कि इस बार बुकिंग रेलवे की कंपनी आईआरसीटीसी के जरिए ही ऑनलाइन स्वीकार की जाएगी। जल्द बुकिंग तिथियां घोषित की जाएंगी। उन्होंने लोगों से धोखाधड़ी से बचने के लिए वेबसाइट के जरिए ही टिकट लेने की अपील की है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments