Tuesday, April 23, 2024
Homeदेशकांग्रेस के 10 सीटों पर सिंगल नाम तय, कई सीटों पर जिताऊ...

कांग्रेस के 10 सीटों पर सिंगल नाम तय, कई सीटों पर जिताऊ कंडीटेड का चयन करने पर हो रही परेशानी

कहते हैं दूध का जला बालक दही भी फूंकफूंककर पीता है। कुछ यही स्थित मध्‍य प्रदेश में देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस की है। एक तरह उसके जमेजमाये नेता पार्टी छोडकर जा रहे हैं तो दूसरी ओर लोकसभा चुनाव में उसे भीतरघात से भी दोचार होना पड सकता है। इसी आशंका के बीच पार्टी अभी तक मध्‍य प्रदेश में 18 सीटों पर उम्‍मीदवारों का चयन नहीं कर पाई है। सूत्रों के मुताबिक कई दिनों से पार्टी इन सीटों पर भारी मशक्‍कत के बाद अब तक पार्टी मात्र 10 सीटों पर सिंगल नाम तय कर पाई है। गौरतलब है कि इस बार कांग्रेस दिग्‍गजों को चुनाव मैदान में मौका देने के मूड है। जिनमें इनमें पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, गुना से अरुण यादव, रतलाम से कांतिलाल भूरिया, जबलपुर से दिनेश यादव, भोपाल से अरुण श्रीवास्तव सहित अन्य शामिल हैं। हालांकि कांग्रेस भले ही अब तक प्रत्याशियों के नामों का ऐलान नहीं कर पाई है, लेकिन पार्टी के निर्देश पर कुछ संभावित प्रत्याशियों ने चुनावी जमावट शुरू कर दी है। पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने राजगढ़ में कार्यकर्ताओं की बैठक ली। साथ ही उन्होंने साफ कर दिया कि उन्हें पार्टी ने यहां से लडऩे का आदेश दिया है। भोपाल लोकसभा सीट से अरुण श्रीवास्तव जहां कार्यकर्ताओं की बैठक ले रहे हैं, वहीं जबलपुर लोकसभा सीट से दिनेश यादव ने नामांकन फार्म लिया है। अरुण श्रीवास्तव का कहना है कि उन्होंने कार्यकर्ताओं की बैठक ली थी। चुनाव है तो संगठन के तौर पर जमावट करनी होती है। चुनाव लडऩे पर उन्होंने बोला यह फैसला पार्टी करेगी। शहडोल से संभावित प्रत्याशी फुंदेलाल मार्कों ने नामांकन जमा कर दिया है। पहले चरण में 19 अप्रैल को छह सीटों पर और दूसरे चरण में 26 अप्रैल को मप्र की सात सीटों पर मतदान होगा। कांग्रेस पहले और दूसरे चरण में शामिल 13 सीटों में से छह पर ही प्रत्याशी उतार पाई है। पहले चरण की सीधी, मंडलाव छिंदवाड़ा में टिकट फायनल हो चुके हैं, जबकि इस चरण में शहडोल, जबलपुर, बालाघाट पर नाम फायनल होना बाकी है। ऐसे ही दूसरे चरण की टीकमगढ़, सतना और बैतूल सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी घोषित कर चुकी है, जबकि दमोह,रीवा, होशंगाबाद पर प्रत्याशी फायनल नहीं हुए हैं। खजुराहो सीट सपा के खाते में है। चुनाव सिर पर है और कांग्रेस अब तक प्रत्‍याशी चयन को लेकर आखिरी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई हैपहले चरण में 19 अप्रैल को छह सीटों पर और दूसरे चरण में 26 अप्रैल को मप्र की सात सीटों पर मतदान होगा।

छह पर ही प्रत्याशी उतार पाई कांग्रेस

कांग्रेस पहले और दूसरे चरण में शामिल 13 सीटों में से छह पर ही प्रत्याशी उतार पाई है। पहले चरण की सीधी, मंडला व छिंदवाड़ा में टिकट फायनल हो चुके हैं, जबकि इस चरण में शहडोल, जबलपुर, बालाघाट पर नाम फायनल होना बाकी है। ऐसे ही दूसरे चरण की टीकमगढ़, सतना और बैतूल सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी घोषित कर चुकी है, जबकि दमोह, रीवा, होशंगाबाद पर प्रत्याशी फायनल नहीं हुए हैं। खजुराहो सीट सपा के खाते में है। पार्टी को अभी भी कुछ सीटों पर जिताऊ प्रत्‍याशी को लेकर चयन करने में परेशानी आ रही हैपहले चरण में 19 अप्रैल को छह सीटों पर और दूसरे चरण में 26 अप्रैल को मप्र की सात सीटों पर मतदान होगा। कांग्रेस पहले और दूसरे चरण में शामिल 13 सीटों में से छह पर ही प्रत्याशी उतार पाई है। पहले चरण की सीधी, मंडला व छिंदवाड़ा में टिकट फायनल हो चुके हैं, जबकि इस चरण में शहडोल, जबलपुर, बालाघाट पर नाम फायनल होना बाकी है। ऐसे ही दूसरे चरण की टीकमगढ़, सतना और बैतूल सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी घोषित कर चुकी है, जबकि दमोह,रीवा, होशंगाबाद पर प्रत्याशी फायनल नहीं हुए हैं। खजुराहो सीट सपा के खाते में है। पार्टी सूत्रों का कहना है कि पार्टी एक साथ सभी 18 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम करने की तैयारी में है, पर सीटों पर पेंच फंसा होने से सूची होल्ड कर दी गई है। कांग्रेस ने लोकसभा की 10 सीटों पर सिंगल नाम फाइनल कर लिए हैं। सीटों पर मामला फंसा हुआ है। इन सीटों में मुरैना, ग्वालियर, दमोह और इंदौर शामिल ।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments