Monday, July 22, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशशिव लीला हुई साकार, अवंतिका मना रही उत्सव - शिवराज

शिव लीला हुई साकार, अवंतिका मना रही उत्सव – शिवराज

धार ।   शिव लीला साकार हुई है, अवंतिका उत्सव मना रही है। प्रदेश के लिए गर्वित होने का क्षण है। महाकाल लोक महाकाल बाबा के चरणों में लोकर्पित होने के लिए तैयार है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री इस मौके पर प्रदेश आ रहे हैं। यह अद्भुत रचना है, जो महाकाल बाबा के प्रांगण में हुई है। प्रदेशभर के मंदिरों में तैयारियां चल रही हैं। यह बात मध्य प्रदेश भाजपा के प्रशिक्षण वर्ग के दूसरे दिन मांडू पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने मीडिया कर्मियों से चर्चा में कही। उन्होंने कहा कि आज सरकार पंचायत और वार्डों तक घर-घर जा रही है। पात्र हितग्राही 31 अक्टूबर तक हर हाल में योजना का लाभ लें, इसके लिए बड़े स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। अब तक 22 लाख हितग्राहियों को इस योजना के माध्यम से लाभ दिलाया गया है। एक नवंबर को इस बार मध्य प्रदेश उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। मुख्यमंत्री शनिवार रात मांडू में ही रुकेंगे। यहां कर्यकर्ताओं से चर्चा करेंगे और सांस्कृतिक आयोजनों में शिरकत करेंगे। तीसरे दिन रविवार को सुबह प्रशिक्षण वर्ग में एक सत्र को संबोधित करने के बाद मांडू से दोपहर में रवाना होंगे।

नशे के कारोबार पर करेंगे जड़ से प्रहार

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि अपराध और अपराधियों पर प्रहार किया जा रहा है। दुराचारियों को हम नेस्तनाबूद कर देंगे। अवैध नशे के कारोबार पर जड़ से प्रहार करेंगे। मध्यप्रदेश की धरती पर नशीली ड्रग्स बेचने वाले नहीं रह सकेंगे। आने वाली पीढ़ी को बर्बाद नहीं होने देंगे। अपराधियों के लिए मध्यप्रदेश में कोई जगह नहीं है, किसी हाल में उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा।

उमा भारती का नाम लेते ही धन्यवाद बोल चल दिए शिवराज

प्रेस वार्ता में मुख्यमंत्री चौहान बड़े ही सहज भाव से पत्रकारों के जवाब दे रहे थे। इस बीच एक पत्रकार द्वारा उनसे शराब बंदी के खिलाफ धरने पर बैठी उमा भारती को लेकर प्रश्न करने की कोशिश की गई। जैसे ही पत्रकार के मुंह से उमा भारती शब्द निकला, तत्काल चौहान धन्यवाद बोलकर आगे बढ़ गए। इसके बाद उन्होंने पत्रकारों के सवाल के जवाब नहीं दिए।

चाय की दुकान के पास सड़क पर खड़े लोगों से मिले

मांडू में शाम को मीरा की जीरात पर शिवराज का हेलीकाप्टर उतरा। वहां से एक निजी होटल तक शिवराज अपने वाहन से गुजर रहे थे। इस दौरान चाय की एक दुकान के पास सड़क पर खड़े लोगों को देखकर शिवराज ने अपना काफिला रुकवाया। वे वाहन से उतरे। सभी से नमस्कार कर हाथ मिलाया। चाय की दुकान के संचालक कन्हैयालाल प्रजापत के साथ उपस्थित उनके पुत्र राहुल प्रजापत, मनोज बामनिया आदि लोगों से उन्होंने चर्चा की। शिवराज ने उनसे पूछा कैसे हो भाइयों, सबकुछ ठीक चल रहा है न, सब अच्छे हो न। उसके बाद उपस्थित लोगों ने मुख्यमंत्री को कमल के फूल भेंट किए। इस पर शिवराज ने कहा कि ये कमल के फूल कहां से लाए तो उन्हें बताया गया कि मांडू के सागर जलाशय से। चौहान ने उपस्थित सभी लोगों के साथ सहज भाव से फोटो खिंचवाए और कहा अपना ध्यान रखना। इसके बाद वे अपने वाहन में बैठकर रवाना हो गए। मुख्यमंत्री का सहज भाव देखकर लोग गदगद नजर आए।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments