Wednesday, February 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशएक हजार करोड़ बढ़ेगा खेलों का बजट, विक्रम पुरस्कार वालों को सरकारी...

एक हजार करोड़ बढ़ेगा खेलों का बजट, विक्रम पुरस्कार वालों को सरकारी नौकरी: CM

भोपाल। प्रदेश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए खेल विभाग का बजट एक हजार करोड़ रुपए तक बढ़ाया जाएगा। मल्लखंब, ब्रेक डांस और ई-स्पोर्ट्स की अकादमी स्थापित की जाएगी। विक्रम पुरस्कार प्राप्त खिलाड़ी को सरकारी नौकरी दी जाएगी। खेलों को बढ़ावा देने खेल विकास निगम का गठन किया जाएगा। यह घोषणाएं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने टीटी नगर स्टेडियम में खेलो एमपी यूथ गेम्स का शुभारंभ करते हुए की हैं। खेलो एमपी यूथ गेम्स के शुभारंभ अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि खेलों के प्रोत्साहन के लिए पैसों की कमी नहीं होगी। हम खेलों के बजट को एक हजार करोड़ तक बढ़ाऐंगे। प्रदेश के नए स्टेडियम और पहले से बने स्टेडियमों के संधारण के लिए नई नीति बनाई जाएगी।

ट्राफी का किया अनावरण

मुख्यमंत्री ने खेल का शुभारंभ करते हुए गेम्स ट्राफी का अनावरण कर खिलाडिय़ों से खेलों की मशाल प्राप्त कर राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री चौहान ने राष्ट्रीय, अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में पदक प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को चेक प्रदान कर सम्मानित किया। एशियाड में कमाल दिखा रहे भोपाल शुटिंग अकादमी के निशानेबाज एश्वर्य प्रताप सिंह को 2 करोड़ 75 लाख रुपए और निशानेबाज आशी चौकसे को एक करोड़ 25 लाख का चेक प्रदान किया गया। दोनों खिलाडिय़ों के माता-पिता ने चेक प्राप्त किया। महिला क्रिकेट में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम की सदस्य पूजा वस्त्राकर को एक करोड़, सेलिंग की खिलाड़ी नेहा ठाकुर को 50 लाख रुपए और शूटिंग की खिलाड़ी मनीषा कीर को 50 लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया। नेहा और मनीषा के माता-पिता ने चेक प्राप्त किया।

प्रदेश नई राह पर अग्रसर

खेलो एमपी यूथ गेम्स के शुभारंभ अवसर पर अपने वर्चुअल संबोधन में केंद्रीय खेल एवं युवा मामलों के मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच के अनुरूप युवाओं में खेलों में भागीदारी बढ़ रही है। कभी बीमारू कहा जाने वाला मध्यप्रदेश, आज मुख्यमंत्री चौहान के नेतृत्व में उपलब्धियां अर्जित कर रहा है। प्रदेश के सभी जिलों में खेल अधोसंरचना के उन्नयन पर ध्यान दिया जा रहा है। खेलों के क्षेत्र में मध्यप्रदेश नई राह पर अग्रसर है। हमारी सरकार ने देश की श्रेष्ठतम खेल सुविधाएं मध्यप्रदेश में उपलब्ध कराईं हैं।

1 लाख से अधिक युवा भाग लेंगे

उल्लेखनीय है कि राज्य स्तरीय खेलो एमपी-2023 की प्रतियोगिताएं 5 अक्टूबर तक भोपाल, रीवा, इंदौर, ग्वालियर, उज्जैन, जबलपुर, कटनी और शिवपुरी में होंगी। भोपाल में व्हालीबाल, फुटबाल, कुश्ती, बॉक्सिंग, फेंसिंग, जूड़ो, ताईक्वाडो, टेनिस, क्याकिंग- कैनोइंग, रोइंग और तैराकी की प्रतियोगिताएँ खेली जाएगी। रीवा में कबड्डी, इंदौर में वेटलिफ्टिंग, बास्केटबाल और टेबल टेनिस, ग्वालियर में हॉकी, बैडमिंटन, उज्जैन में मलखंब और योगासन, जबलपुर में खो-खो और आर्चरी, कटनी में शतरंज तथा शिवपुरी में शूटिंग और एथलेटिक्स के मुकाबले होंगे। प्रदेश के एक लाख से ज्यादा युवा इन प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments