Tuesday, December 6, 2022
Homeट्रेंडिंग न्यूज़पोर्नोग्राफी और रिवेंज पोर्न : एक्स पार्टनर की जिंदगी बर्बाद करने का...

पोर्नोग्राफी और रिवेंज पोर्न : एक्स पार्टनर की जिंदगी बर्बाद करने का खतरनाक ट्रैंड

हाल ही में भारत में 67 पोर्नोग्राफिक वैबसाइटों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। केंद्र सरकार ने इंटरनैट कंपनियों को लेकर साल 2021 में जारी किए गए नए आई.टी. नियमों के अनुसार यह बैन लगाया है। इससे पहले भी लगातार बड़ी संख्या में पोर्न साइट पर बैन लगाया गया था।

भारत में पोर्नोग्राफी और निजी तौर पर वयस्क सामग्री देखने के खिलाफ कोई कानून नहीं है। लेकिन भारत में पोर्नोग्राफिक वीडियो बनाना, बेचना या उसका वितरण करना गैर-कानूनी है। लेकिन इसके बावजूद भारत में पोर्नोग्राफी बढ़ रही है। इसके साथ ही रिवेंज पोर्न के रूप में एक नया ट्रैंड देखा जा रहा है।

एक्स पार्टनर की जिंदगी बर्बाद करने का रास्ता

रिवेंज पॉर्न में व्यक्ति का मुख्य उद्देश्य एक्स पार्टनर की जिंदगी बर्बाद करना ही होता है। पर कई बार इन निजी तस्वीरों और वीडियो का इस्तेमाल लड़के अपनी एक्स गर्लफ्रैंड को ब्लैकमेल करने के लिए करते हैं, जिससे वह उनके पास वापस आ जाएं। मनोवैज्ञानिक कहते हैं कि रिवेंज पोर्न में अपने एक्स पार्टनर से बदला लेने के लिए अवसाद ग्रस्त शख्स एक नीच रास्ता अपनाता है इसमें बदला लेने का जनून व्यक्ति में इस कदर हावी रहता है कि वह उस हद तक चला जाता है कि जितना घटिया चीज वह अपने पार्टनर के लिए कर सकता है, करता है। इसमें उसका मकसद उसे अधिक से अधिक हर्ट करना होता है। इसमें अपने पर्सनल पलों की फोटोज से लेकर वीडियो तक यूज किए जाते हैं।

इसकी पुष्टि के लिए राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के ताजा आंकड़े दिखाते हैं कि भारत में मानसिक रोग से अपरिपक्व कम आयु के लड़के और लड़कियां सैक्स के साथ प्रयोग करना शुरू कर देते हैं। ऐसे में एक-दूसरे के साथ संबंधों में जुड़े लोगों का इस तरह के वीडियो बनाना चौंकाने वाली बात नहीं है। अक्सर वीडियो बनाए भले ही पार्टनर की सहमति के साथ गए हों लेकिन इन्हें सार्वजनिक बिना सहमति के किया जाता है। इस तरह के वीडियो से समस्या तब खड़ी हो जाती है जब ये वीडियो इंटरनैट पर पहुंच जाते हैं। ऐसा मुख्य रूप से दो तरीकों से होता है।

पहला जब संबंधों के टूट जाने के बाद बदले की भावना से ऐसे वीडियो को इंटरनैट पर डाल दिया जाता है। बोलचाल की भाषा में इसे ‘रिवेंज पोर्न’ कहा जाता है। कम आयु के युवा वर्ग में इसके बढ़ते चलन में आपसी सहमति की बड़ी भूमिका होती है। अक्सर ऐसे वीडियो बनाए भले ही पार्टनर की सहमति के साथ गए हों लेकिन इन्हें सार्वजनिक बिना सहमति के ही किया जाता है। एमेच्योर पोर्नोग्राफी इस तरह के वीडियो की दूसरी श्रेणी है। इसमें वीडियो के सामने दिखाई दे रहे लोग खुद को रिकॉर्ड करते हैं और उन्हें पैसे देने वाली वैबसाइटों या ऐप आधारित सेवाओं को बेच देते हैं।

नाजायज तरीके से पैसा कमाना

रिवेंज पोर्न कानून की दृष्टि से पूरी तरह से अनियंत्रित क्षेत्र है और शायद इसी वजह से पनप भी रहा है। रिवेंज पोर्न हमारी सामाजिक जिंदगी के लिए बड़ा खतरा बन रहा है, रिवेंज पोर्न के कई अलग-अलग तरीके हैं। एक तरीका व्यक्तिगत रूप से सांझा किए गए संदेशों, छवियों और वीडियो क्लिप का प्रसार है जो आपने अपने साथी या किसी और को भेजा है। दूसरा तरीका यह है कि आपके ऑनलाइन रिकॉर्ड किए गए और स्टोर सामग्री को आपके ऑनलाइन स्टोरेज और डिजिटल डिवाइस में हैक करके चुरा लिया जाता है। मनोवैज्ञानिक दृष्टि से रिवेंज पोर्न एक बहुत ही खतरनाक मानसिक विकृति है जिसमें किसी के नग्न चित्र और सैक्स वीडियो को ऑनलाइन पोस्ट करने का कारण ईष्र्या, किसी से बदला लेना के साथ-साथ नाजायज तरीके से पैसा कमाना भी होता है। एक बार अश्लील चित्र/वीडियो ऑनलाइन हो जाने के बाद, हर वैबसाइट को ट्रैक करना बहुत मुश्किल हो सकता है। पोर्न साइट्स या अन्य नैटवर्क पर अंतरंग तस्वीरों को प्रसारित करके आदमी यह मानता है कि वह अपने पूर्व साथी से बदला ले सकता है लेकिन यह उसकी मानसिक बीमारी के सिवा कुछ नहीं होता है रिवेंज पोर्न। इससे निपटना चुनौती पूर्ण है।

कैसे रोकें रिवेंज पोर्न

रिवेंज पोर्न को रोकने के लिए बेहतर है कि पोर्न से जुड़ी हम अपनी किसी भी शारीरिक और मानसिक स्थिति को रिकॉर्ड करने के लिए किसी भी डिजिटल माध्यम का उपयोग न करें और न ही होने दें। खुद के यौन संबंध की वीडियो बनाना या एक टॉपलैस सैल्फी लेने की मनोवृति से बचें तो बेहतर होगा। इस पर ज्यादा और कुछ नहीं कहा जा सकता कि रिवेंज पोर्न के जरिए यदि किसी भी शख्स की निजी जिंदगी अगर पब्लिक प्लेटफॉर्म पर ला दी जाए, तो उसे सिवाय सामाजिक शॄमदगी के कुछ भी हासिल नहीं होता, चाहे वह कोई पुरुष हो या फिर कोई महिला हो।

ये हो सकते हैं पोर्न एडिक्शन के संकेत, जानिए इससे छुटकारा पाने के उपाय

पोर्न  देखने के लिए आप अपने दूसरे काम छोड़ने लगते हैं, तो यह संकेत है कि आपको पोर्न एडिक्शन हो रही है। इससे बचना जरूरी है। पोर्न से आपका लव-हेट का रिश्ता हो सकता है। डिजिटल स्पेस में यह आसानी से मिलने वाली सामग्री है। और ज्यादातर वयस्क इसे देखना पसंद करते हैं। कई बार ये आपकी सेक्स लाइफ में महत्वपूर्ण सुधार भी कर सकती हैं। पर राेमांच और सेक्स एजुकेशन से आगे बढ़कर कब यह एडिक्शन में तब्दील होने लगी है, इसके बारे में जानना बहुत जरूरी है। अगर पोर्न देखने की आदत आपका डेली रुटीन, आपकी नींद और सेक्स लाइफ को प्रभावित करने लगी है, तो आपको सचेत हो जाना चाहिए।

मेंटल हेल्थ के लिए बहुत नुकसानदेह पोर्न एडिक्शन

शरीर संबंधी समस्याओं और उनके निदान के बारे में जानना अच्छी बात है। पर इंटिमेट हेल्थ की जानकारी इकठ्ठा करते हुए इंटरनेट पर इधर-उधर भटकना गलत है। यहां इधर-उधर भटकना कहने से मतलब आपके या आपके पार्टनर द्वारा पोर्न साइट खंगालने से है। कई बार पोर्न साइट को देखते हुए हम उसमें इतना अधिक उलझ जाते हैं कि यह एडिक्शन का रूप ले लेता है। यह खासकर मेंटल हेल्थ के लिए बहुत नुकसानदेह होता है। इंस्टाग्राम पर बेहद लोकप्रिय डॉ. वैभवी शर्मा ने हाल ही में अपनी पोस्ट में पोर्न एडिक्शन के बारे में कई महत्वपूर्ण जानकारी साझा की। आइये जानते हैं।

अपने व्यवहार पर नजर रखना है जरूरी

‘पोर्न एडिक्शन को मेंटल डिसऑर्डर में शामिल तो नहीं किया जा सकता है। लेकिन आपके द्वारा पोर्न साइट देखना एडिक्शन में तो नहीं बदल गया है, इसका पता जरूर लगाना चाहिए। जिन लोगों में यह एडिक्शन का रूप ले रहा है, उन्हें अपनी उन आदतों को पहचानना चाहिए। इससे आगे समस्या खड़ी हो सकती है। इस तरह की अनचाही आदतों या व्यवहार को कम करना होगा या उन आदतों को हमेशा के लिए खत्म करना होगा। यदि समस्या बढ़ गई है, तो मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल से मिलने में संकोच नहीं करें।

कब है पोर्नोग्राफी पर ध्यान देने की जरूरत

पोर्नोग्राफी की समस्या हमेशा से रही है। यह विवादित भी रहा है। यह पर्सनल प्रेफरेंस और पर्सनल चॉइस पर भी निर्भर करता है। यदि आपमें नीचे बताई गई आदतें हैं, तो आपको ध्यान देने की जरूरत है

आपकी पोर्न देखने की आदत समय के साथ बढ़ती जा रही है।

देखने के बाद परिणामों के प्रति दोषी महसूस करें।

पोर्न देखने के कारण अपनी जिम्मेदारियों से भागने लगे हैं या अपनी नींद को रोजाना खराब करने लगे हैं।

किसी दूसरे व्यक्ति से कहें कि वे आपके इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर एंटी पोर्न सॉफ्टवेर इंस्टॉल कर दें। और वे आपको पासवर्ड भी न बताएं।

जब आपको पोर्न देखने की बहुत इच्छा होने लगे, तो तुरंत अपने आपको किसी दूसरी एक्टिविटी में व्यस्त कर लें।

इस बात को हमेशा याद रखें कि इसकी वजह से आपकी जिंदगी कितनी प्रभावित हुई है।

पोर्नोग्राफी के नुकसान को किसी जर्नल या डायरी में लिख लें। उसे अक्सर पढ़ लिया करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group