Wednesday, April 17, 2024
Homeट्रेंडिंगइन देशों में कहीं जूते में पीते हैं शराब, तो कहीं चीयर्स...

इन देशों में कहीं जूते में पीते हैं शराब, तो कहीं चीयर्स करना है गुनाह

शराब के शौकीन आपको पूरी दुनिया में मिल जाएंगे. सभी को पता है कि शराब पीना सेहत के लिए नुकसानदायक है, लेकिन इसके बावजूद अलग-अलग लोग अलग-अलग तरीके से अपनी शराब पीना पसंद करते हैं. लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि कुछ देशों में शराब पीने की अजीबोगरीब परंपरा है। किसी देश में चीयर्स करना गुनाह है, तो किसी देश में लोग शराब जूते में पीते हैं। आज हम आपको उन देशों के बारे में बताते हैं, जहां पर शराब पीने की अजीब परंपरा है।

वाइन के बिना शादी अधूरी

भारत समेत दुनिया के अलग-अलग देशों में शादी की अपनी मान्यताएं होती हैं। हालांकि एक ऐसा देश जहां पर वाइन के बिना शादी नहीं होती है। नाइजीरिया में शादी के समय दुल्हन को पिता एक कप में वाइन देता है। इसके बाद लड़की शादी में आए मेहमानों के सामने अपने पति को ग्लास देती है। जब लड़की होने वाले पति को अपना ग्लास दे देती है, तब वो शादी मानी जाती है। शादी में लड़की वालों की तरफ से वाइन नहीं लाया जाता है, तो शादी पूरी नहीं मानी जाती है।

चीयर्स बोलना है बैन

जब लोग एक पार्टी या कहीं पर साथ में शराब का सेवन करते हैं, तो चीयर्स बोलकर शुरुआत करते हैं। हालांकि हंगरी में चीयर्स करना अपराध माना जाता है। हंगरी में शराब पीने से पहले चीयर्स बोलना खराब माना जाता है। इसके पीछे एक खास वजह है।

दरअसल साल 1849 में ऑस्ट्रेलियाई सैनिकों ने हंगरी के कुछ क्रांतिकारियों की हत्या कर दी थी, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया के सैन्य अधिकारियों ने गिलास को टकराते हुए चीयर्स शब्द का प्रयोग किया था। इसके बाद यहां के स्थानीय लोग इसे अच्छा नहीं मानते हैं।

जूते में शराब पीते हैं लोग

भारत में शादी में जूता चुराई की रस्म बहुत प्रसिद्ध है। इस रस्म में दूल्हा जूता चुराने वाले को कुछ पैसा देता है, तो वो जूता वापस कर देता है। हालांकि यूक्रेन में शादी के दौरान दुल्हन की जूती चुराई जाती है। इसके बाद जूती चुराने वाला शख्स शादी में आए लोगों को दुल्हन की जूती में शराब पीने के लिए कहता है। ऑस्ट्रेलिया में भी खुशी के मौके पर लोग अपने जूते में शराब पीते हैं।श्

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments