Wednesday, February 21, 2024
Homeदुनियासत्ता से बेदखल होंगे मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू?

सत्ता से बेदखल होंगे मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू?

भारत से पंगा लेने वाले और चीन की गुणगान की स्तुति करने वाले मालदीव के राष्ट्रपति मुइज्जू सत्ता से बेदखल किये जा सकते है। जानकारी मिली है कि मालदीव संसद के विपक्षी दल एमडीपी ने राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव की तैयारी कर ली है। जबकि पीपीएम पीएनसी के गठबंधन ने स्पीकर मोहम्मद असलम और डिप्टी स्पीकर अहमद सलीम के विरोध में को पास नहीं होने देने का फैसला कर लिया है। सत्तारूढ़ गठबंधन प्रोग्रेसिव पार्टी ऑफ मालदीव (पीपीएम) और पीपुल्स नेशनल कांग्रेस (पीएनसी) ने कहा है कि वह किसी भी कीमत राष्ट्रपति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को पास नहीं होने देंगे। एक रिपोर्ट के अनुसार संवाददाता सम्मेलन में विपक्षी दल पीपीएम के नेता अहमद सलीम ने कहा है कि वह एडीपी के राष्ट्रपति मुइज्जू को हटाने के किसी प्रकार के षड्यंत्र को सफल नहीं होने देंगे। हम अविश्वास प्रस्ताव को पास होने का कोई मौका नहीं देंगे। राष्ट्रपति मुइज्जू को हटाने से पहले उन्हें हमें मारना होगा। बता दें कि मालदीव की संसद में रविवार को चीन समर्थक राष्ट्रपति मोहम्मद मुइज्जू के मंत्रिमंडल में चार सदस्यों के लिए हुए मतदान में केवल एक सदस्य को ही मुजूरी मिल सकी। देश के मुख्य विपक्षी दल ने मंत्रिमंडल के इन सदस्यों के खिलाफ व्हिप जारी किया था। इससे एक दिन पहले सदस्यों को मंजूरी देने पर हुए मतभेद को लेकर सरकार समर्थक सांसदों और विपक्षी सांसदों के बीच झड़प हो गई थी।

दूसरी ओर विपक्षी भारत विरोधी मुइज्जू को सत्ता से बेदखल करने के मूड है और उनका दावा है कि उन्होंने पूरी तैयारी कर ली है। एमडीपी के एक सांसद के हवाले से बताया गया है कि एमडीपी ने राष्ट्रपति मुइज्जू को हटाने के लिये अविश्वास प्रस्ताव पर जरूरी संख्या में सांसदों से हस्ताक्षर करा लिये हैैं। एक खबर के अनुसार एमडीपी के संसदीय समूह की सोमवार को हुई बैठक में महाभियोग प्रस्ताव को जमा करने का फैसला सर्वसम्मति से किया गया। रिपोर्ट में कहा गया, ”संसद के स्थायी आदेशों के साथ संविधान में कहा गया है कि राष्ट्रपति पर 56 वोट के साथ महाभियोग चलाया जा सकता है।ÓÓ संसद ने हाल में अपने स्थायी आदेशों में संशोधन किया था ताकि महाभियोग प्रस्ताव पेश करने की प्रक्रिया को आसान किया जा सके। मालदीव की संसद में कुल 80 सदस्य हैं। मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी (एमडीपी) के 45 सदस्य हैं और इसकी सहयोगी द डेमोक्रेट्सÓ के 13 सदस्य हैं। पीपीएम-पीएनसी के सत्तारूढ़ गठबंधन में प्रोग्रेसिव पार्टी ऑफ मालदीव्स के दो वहीं पीपल्स नेशनल कांग्रेस के 13 सदस्य हैं। तीन निर्दलीय सदस्य हैं, वहीं जम्हूरी पार्टी और मालदीव्स डेवलपमेंट अलायंस (एमडीए) के दो-दो सदस्य हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments