Friday, June 14, 2024
Homeबिज़नेस1 September 10 New Rules: 1 सितंबर से बदलने वाले हैं 10...

1 September 10 New Rules: 1 सितंबर से बदलने वाले हैं 10 जरूरी नियम…

1 September 10 New Rules: सितंबर महीने में कई वित्तीय नियमों में बदलाव वाला है। आरबीआई की घोषणा के अनुसार सितंबर महीने की 30 तारीख तक ही दो हजार के नोट बदले जा सकते हैं। ऐसा नहीं करने वालों को आगे परेशानी हो सकती है। आधार-पैन और डीमैट खाते से जुड़े कई नियम भी बदल जाएंगे।

अगस्त का महीना बस समाप्त होने को है। सितंबर महीने में कई महत्वपूर्ण वित्तीय नियमों में बदलाव होने जा रहे हैं। ऐसे में उनकी जानकारी सभी के लिए जरूरी है। सितंबर का महीना बीतते-बीतते कई जरूरी काम निपटाने जरूरी हैं नहीं तो परेशान बढ़ सकती है। उनमें सबसे जरूरी काम है 30 सितंबर तक 2000 रुपये के बचे नोटों को बदलने का। आरबीआई की घोषणा के अनुसार सितंबर महीने की 30 तारीख तक ही दो हजार के नोट बदले जा सकते हैं। ऐसा नहीं करने वालों को आगे परेशानी हो सकती है। आइए जानते हैं सितंबर महीने में होने वाले महत्वपूर्ण बदलावों के बारे में। सबसे पहले शुरुआत सिलेंडर की घटी कीमतों से।

एलपीजी सिलेंडर पर मिलेगी 200 रुपये की राहत

केंद्रीय कैबिनेट ने एलपीजी सिलेंडर पर 200 रुपये की सब्सिडी देने का एलान किया है। उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को पहले से मिल रही 200 रुपये की सब्सिडी के अलावे यह लाभ अलग से मिलेगा। ऐसे में इस स्कीम के लाभार्थियों को 400 रुपये प्रति सिलेंडर का लाभ होगा। सरकार ने इस महत्वपूर्ण फैसले का एलान अगस्त में ही कर दिया है। ऐसे में सितंबर में जब आप सिलेंडर की बुकिंग करेंगे तो प्रति सिलेंडर आपको 200 रुपये कम चुकाना पड़ेगा।

दो हजार के नोट बदलने की आखिरी तारीख

2,000 रुपये के नोटों को बदलने की डेडलाइन 30 सितंबर, 2023 को समाप्त हो जाएगी। ऐसे में आप बैंक की छुट्टियों की लिस्ट को चेक करके जल्द से जल्द अपने पर नकद रूप में पड़े 2000 रुपये के नोट नजदीकी बैंक शाखा पर जाकर बदल लें। ऐसा नहीं करने पर 30 सितंबर के बाद आपको परेशानी हो सकती है या फिर सीधे कहें तो नुकसान उठाना पड़ा सकता है।

मुफ्त में आधार डाटा अपडेट करने का आखिरी मौका

अगर आप अपना आधार मुफ्त में अपडेट करना चाहते हैं तो आपको यह काम हर हाल में 14 सितंबर 2023 तक निपटा लेना चाहिए। UIDAI ने 14 सितंबर तक मुफ्त में आधार अपडेट करने की डेडलाइन तय की है। पहले यह सुविधा को 14 जून तक ही दी गई थी उसके बाद इसे 14 सितंबर कर दिया गया। आप उक्त तारीख तक आप अपने आधार से जुड़े विवरण बिना किसी शुल्क के अपडेट करवा सकते हैं।

डीमैट खाते की नॉमिनेशन प्रक्रिया पूरी करने की आखिरी तारीख

अगर आपने डीमैट खाते में नॉमिनेशन की प्रक्रिया को पूरा नहीं किया है तो यह काम भी आपको 30 सितंबर 2023 से पहले पूरा कर लेना चाहिए। बिना नॉमिनेशन वाले खाते को उक्त तिथी के बाद सेबी की ओर से निष्क्रिय किया जा सकता है।

क्रेडिट कार्ड से जुड़े नियमों में बदलाव

अगर आपके पास एक्सिस बैंक का मैग्नस क्रेडिट कार्ड है तो सितंबर महीने से इसके नियम और शर्तों में बड़े बदलाव हो सकते हैं। बैंक की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक कुछ लेन-देन पर पर ग्राहकों को सितंबर महीने से विशेष छूट का लाभ नहीं मिल सकेगा। इसके साथ ही 1 सितंबर से नई कार्डधारकों को सालाना फीस के रूप में 12,500 रुपये जीएसटी के साथ चुकाना होगा। वहीं, पुराने ग्राहकों को 10,000 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना पड़ेगा। जिन ग्राहकों ने पूरे साल के दौरान 25 लाख रुपये तक की खरीदारी की है उनका शुल्क माफ कर दिया जाएगा।

भारतीय स्टेट बैंक की ये सुविधा 30 सितंबर से हो जाएगी समाप्त

अगर आप एसबीआई की वीकेयर स्कीम में निवेश करना चाहते हैं तो ऐसा आप सितंबर महीने तक ही कर सकते हैं। इस खास स्कीम में निवेश की डेडलाइन 30 सितंबर, 2023 को समाप्त हो रही है। बता दें कि एसबीआई की इस योजना का लाभ केवल वरिष्ठ नागरिक ही उठा सकते हैं। इस योजना के तहत सीनियर सीटिजन्स को आम लोगों की तुलना में पांच साल और उससे अधिक की अवधि के लिए 7.50% तक का ब्याज मिलता है।

पैन और आधार लिंक करने का आखिरी मौका

पैन और आधार कार्ड लिंक करने के मामले में भी बड़ा अपडेट सामने आया है। अगर कोई नागरिक इस महीने के आखिर तक पैन-आधार को लिंक नहीं करता है तो सितंबर महीने के बाद यानी एक अक्टूबर 2023 को उसका पैन कार्ड (Pan Card) निष्क्रय हो जाएगा। अगर आपका पैन आधार से लिंक नहीं है तो इसका असर आपके डीमैट अकाउंट पर भी पड़ेगा। ऐसे में यह जरूरी है कि आप यह पेंडिंग काम जल्दी से जल्दी निपटा लें।

अमृत महोत्सव एफडी में निवेश की आखिरी तारीख

आईडीबीआई बैंक की अमृत महोत्सव एफडी योजना में निवेश की समयसीमा भी 30 सितंबर 2023 को समाप्त हो रही है। 375 दिनों की इस FD स्कीम में आम नागरिक को 7.10 फीसदी और वरिष्ठ नागरिक को 7.60 फीसदी तक ब्याज का प्रावधान है। वहीं, 444 दिनों की FD के तहत आम नागरिक को 7.15 फीसदी और वरिष्ठ नागरिक को 7.65 फीसदी की दर से ब्याज मिल सकता है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव

हर महीने की आखिरी तारीख को पेट्रोलियम कंपनियां पेट्रोल-डीजल के कीमतों की समीक्षा करती है। ऐसे में अगस्त महीने के आखिरी में आने वाले त्योहारी मौसम को देखते हुए इसमें राहत देने की घोषणा की जा सकती है। अगर ऐसा होता है तो लंबे समय बाद सितंबर महीने से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव दिख सकता है। बाजार विशेषज्ञों का मानना है कि सरकार के पास पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी करने का विकल्प भी मौजूद है। यदि वह ऐसा करती है तो इससे त्योहारी सीजन के बीच देश के मध्यवर्गीय आम उपभोक्ताओं को बड़ा लाभ पहुंचाया जा सकता है।

सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में परिवर्तन

सरकार ने एलपीजी गैस सिलेंडर के कीमतों में राहत का एलान तो कर दिया है। अब सीएनजी और पीएनजी उपभोक्ताओं को भी उम्मीद है कि उन्हें भी सितंबर महीने से राहत मिलेगी। आने वाले त्योहारी सीजन में उपभोक्ताओं पर दबाव कम करने के लिए सरकार इनकी कीमतों में भी नरमी का एलान कर सकती है। हालांकि इसका खुलासा 31 अगस्त की मध्य रात्रि तक ही होगा। जैसे ही सरकार की ओर से ऐसा कोई एलान किया जाता है हम आपको अपडेट करेंगे। बात दें कि सरकार ने कुछ महीने पहले सीएनजी-पीएनजी के भाव तय करने के नए फॉर्मूले का एलान किया था। उसके अनुसार अब हर महीने सीएनजी-पीएनजी की दरें तय की जा रही हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments