Friday, June 14, 2024
Homeधर्मराम मंदिर में 22 जनवरी को विराजेंगे रामलला

राम मंदिर में 22 जनवरी को विराजेंगे रामलला

अयोध्या । अयोध्या में 22 जनवरी 2024 को राम मंदिर में रामलला विराजेंगे। 15 जनवरी से मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह शुरू होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस कार्यक्रम के लिए न्योता दिया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक समारोह के अंतिम दिन यानी 22 जनवरी को पीएम मोदी की मौजूदगी में राम मंदिर में रामलला को विराजमान किया जाएगा।शनिवार को राम मंदिर से जुड़ी भवन निर्माण समिति की दूसरे दिन बैठक में इन सभी बातों पर चर्चा हुई। बैठक अभी भी श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र कार्यालय में चल रही है। इसमें विहिप अध्यक्ष आलोक कुमार, उपाध्यक्ष जीवेश्वर मिश्रा और राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय भी मौजूद हैं।

फाइनल टच देने पर चर्चा
भवन निर्माण समिति की दूसरी बैठक एलएनटी ऑफिस में चल रही है। बैठक भवन निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र की अध्यक्षता में हो रही है। इसमें रामसेवकपुरम में बन रही मूर्तियों और मंदिर के ग्राउंड फ्लोर को फाइनल टच देने पर चर्चा की गई। इसके अलावा मंदिर से जुड़े सभी निर्माण कार्यों को दिसंबर तक पूरा करने के निर्देश दिए गए। निर्माण से जुड़े अधिकारियों की ओर से बताया गया कि इस समय मंदिर के ग्राउंड फ्लोर का फर्श बनाने का काम चल रहा है। यहां खंभों पर देव प्रतिमाओं को उकेरा जा रहा है। मंदिर के फस्र्ट फ्लोर में लगने वाले सभी 14 दरवाजे बनकर तैयार हो गए हैं।

नक्काशी को फाइनल टच दिया जा रहा
यह काम हैदराबाद के कारीगर कर रहे हैं। जबकि दरवाजे की लकड़ी महाराष्ट्र के चंद्रपुर जिले से खासतौर पर मंगाई गई है। खंभों पर नक्काशी को फाइनल टच दिया जा रहा है। बैठक में अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र के अलावा राम मंदिर ट्रस्ट के सदस्य डॉ. अनिल मिश्र और अयोध्या के राजा बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र सहित एलएंडटी के इंजीनियर मौजूद हैं। निर्माण कार्यों में तेजी लाने की भी बात कही गई। इस समारोह में प्रधानमंत्री मोदी के आगमन के पहले की तैयारियों पर भी मंथन किया गया।

22 जनवरी को अमृत महोत्सव का आयोजन
तुलसी पीठाधीश्वर जगदगुरु रामानंदाचार्य स्वामी रामभद्राचार्य का जन्मदिन अमृत महोत्सव के रूप में मनाया जाएगा। ये कार्यक्रम 14 से 22 जनवरी तक चलेगा। इसके लिए पीएम मोदी को प्रमुख रूप से आमंत्रित किया गया है। रामभद्राचार्य के उत्तराधिकारी आचार्य रामचंद्र दास के मुताबिक, समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी निश्चित रूप से शामिल होंगे। इसके बाद प्राण प्रतिष्ठा समारोह और अमृत महोत्सव एक ही दिन 22 जनवरी 2024 को होने की बात कही जा रही है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments