Saturday, May 25, 2024
Homeदेशओटीटी प्लेटाफॉर्म पर तंबाकू उत्पादों के विज्ञापनों पर रोक की मांग

ओटीटी प्लेटाफॉर्म पर तंबाकू उत्पादों के विज्ञापनों पर रोक की मांग

नई दिल्ली । राज्यसभा में बीजू जनता दल के एक सदस्य ने मांग की कि टीवी और फिल्मों में तंबाकू उत्पादों के विज्ञापन दिखाने के लिए लागू नियमों को ‘‘ओवर द टॉप’’ (ओटीटी) प्लेटफार्म पर भी लागू करना चाहिए क्योंकि देश में तंबाकू का सेवन स्वास्थ्य संबंधी कई बीमारियों और मौत का कारण है। बीजद के सुजीत कुमार ने राज्यसभा में ओटीटी प्लेटफार्म पर सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादों के विज्ञापन का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि ओटीटी प्लेटफार्म पर ये विज्ञापन निर्बाध दिखाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि ओटीटी प्लेटफार्म के दर्शकों की संख्या खास कर कोरोना के दौरान बढ़ी है। उन्होंने कहा कि एक रिपोर्ट के मुताबिक 15 से 34 आयु की उम्र के युवा दिन भर में औसतन 70 मिनट का समय ओटीटी प्लेटफॉर्म को देते हैं।
बहरहाल समाजवादी पार्टी की सदस्य और अभिनेत्री जया बच्चन ने कहा कि वह इस मुद्दे से स्वयं को असंबद्ध करती हैं। बीजद सांसद सिंह ने कहा कि देश में तंबाकू से होने वाली बीमारियों के पीड़ितों की संख्या कम नहीं है। करीब 40 प्रतिशत गैर संचारी बीमारियों की वजह तंबाकू ही है। उनके अनुसार रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 14 लाख युवाओं की मौत का कारण तंबाकू है और 13 आयु से 30 आयु की उम्र के 9.6 प्रतिशत लड़के और 7.4 प्रतिशत लड़कियां तंबाकू अथवा उसके उत्पाद का सेवन करते हैं।
एक अन्य अध्ययन में कहा गया है कि बॉलीवुड की फिल्में देखकर 12 आयु से 16 आयु की उम्र के किशोरों के धूम्रपान करने की आशंका 2.7 प्रतिशत अधिक होती है। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में युवा तंबाकू का सेवन करते हैं। उन्होंने कहा कि युवा फिल्मों में सितारों को धूम्रपान देखते हैं और प्रभावित होते हैं। 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments