Saturday, May 18, 2024
Homeदेशदिल्ली में लोगों ने धूमधाम से मनाई दिवाली, लेकिन एक बार फिर...

दिल्ली में लोगों ने धूमधाम से मनाई दिवाली, लेकिन एक बार फिर जहरीली हुई हवा

नई दिल्ली। दिल्ली में लोगों ने रविवार को धूमधाम से दिवाली (Diwali) मनाई। सुप्रीम कोर्ट के पटाखों पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद दिवाली पर लोगों ने जमकर आतिशबाजी की। शुक्रवार की बारिश के बाद काफी हद सुधरा दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) एक बार फिर से बिगड़ गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक सोमवार सुबह दिल्ली का एक्यूआई 286 दर्ज किया गया। जबकि रविवार सुबह दिल्ली के एक्यूआई 204 दर्ज किया गया था। बहरहाल पिछले साल की तुलना में इस बार दिल्ली में अपेक्षाकृत बेहतर वायु गुणवत्ता दिखी और इसने दिल्ली में दिवाली का जश्न मनाने वालों को काफी राहत दी। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मुताबिक पूरे दिल्ली में वायु गुणवत्ता ‘खराब’ श्रेणी में बनी हुई है।

दिल्ली के कुछ हिस्सों में धुंध की परत छाई हुई है। जिससे सड़कों पर दृश्यता काफी कम हो गई है और कुछ सौ मीटर से आगे देखना मुश्किल हो गया है। दिल्ली में दिवाली के दिन पटाखे जलाने से प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी देखी गई। दिल्ली का एक्यूआई रविवार शाम चार बजे 218 रहा, जो बीते कम से कम तीन हफ्ते में सबसे अच्छा रहा था।

हाल ही में दिल्ली में सीएम अरविंद केजरीवाल की AAP सरकार ने पटाखों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया था। प्रदूषण की स्थिति के मद्देनजर सरकार ने शहर में खराब हवा से निपटने के लिए ‘कृत्रिम बारिश’ के विचार पर भी विचार किया, जबकि शुक्रवार को अचानक हुई बारिश से लोगों को बड़ी राहत मिली। जिससे प्रदूषण का स्तर कम हो गया। वहीं सोशल मीडिया साइट्स पर शेयर किए गए ताजा पोस्ट और रिपोर्ट्स से पता चला है कि अलग-अलग जगहों पर बड़ी संख्या में लोगों ने पटाखे जलाने में हिस्सा लिया है।लोधी रोड, आरके पुरम, करोल बाग और पंजाबी बाग सहित रविवार रात के नजारों में दिल्ली के कई इलाकों में रात के आकाश को रोशन करते हुए तेज आतिशबाजी दिखाई दी।

दुनिया का सबसे प्रदूषित शहर दिल्ली

वही वायु गुणवत्ता मापने वाले स्विस समूह IQAir के डाटा के मुताबिक सोमवार को दिल्ली दुनिया की सबसे प्रदूषित शहर है। यहां सुबह 5:00 बजे दिल्ली में वायु गुणवत्ता का स्तर 514 पर है जो खतरनाक रूप में चिन्हित है। मौसम एजेंसी aqicn.org के अनुसार दिल्ली के आनंद विहार क्षेत्र में वायु प्रदूषण सबसे खराब दर्ज किया गया है। यहां सुबह 5:00 बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 969 था जो खतरनाक स्तर पर है। यह सामान्य से 20 गुना अधिक है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments