Monday, June 24, 2024
HomeदेशRoad accident : एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत, पलक...

Road accident : एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत, पलक झपकते ही सड़क पर लग गया लाशों का ढेर

Road accident: उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में कानपुर से शव लेकर जा रही एंबुलेंस उन्नाव में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। पुरवा-मोहनलालगंज मार्ग पर अज्ञात वाहन ने एंबुलेंस को टक्कर मार दी। हादसे में बुजुर्ग और तीन बेटियों की मौत हो गई। जबकि एक युवती की हालत गंभीर है।

मामला उन्नाव जिले के मौरावां थाना क्षेत्र का है। कानपुर के हैलट में शुक्रवार सुबह बीमार बुजुर्ग के दम तोड़ने के बाद पत्नी और चार बेटियां उनका शव लेकर एंबुलेंस से लौट रही थीं। पुरवा-मोहनलालगंज मार्ग पर तुसरौर गांव के पास एंबुलेंस में किसी वाहन ने टक्कर मार दी। हादसे में वृद्धा और उसकी तीन बेटियों की मौत हो गई, जबकि एक बेटी की हालत गंभीर है। उसका कानपुर के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। एंबुलेंस चालक लापता है।

एंबुलेंस में मृत शख्स की पत्नी और चार बेटियां मौजूद

28 जुलाई की सुबह परिवार उनका शव एंबुलेंस में लेकर अपने गांव जा रहा था। मृत शख्स की पत्नी और चार बेटियां एंबुलेंस में मौजूद थे। निवासी धनीराम सविता (75) सेवानिवृत्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थे। वर्ष 2007 में वह मौरावां के केएनपीएन इंटर कॉलेज से सेवानिवृत्त हुए थे। एक सप्ताह पहले धनीराम को पैरालिसिस का अटैक पड़ा था। परिजन प्राइवेट डॉक्टर से इलाज करा रहा थे। सांस लेने में दिक्कत होने पर 24 जुलाई को परिजनों ने उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। बाद में कानपुर हैलट रेफर कर दिया गया था।

शुक्रवार सुबह करीब तीन बजे धनीराम की हैलट में मौत हो गई। पत्नी प्रेमा (65), बेटी मंजुला (40), अंजली (35), रूबी (30) और सुधा (38) एंबुलेंस से शव लेकर मौरावां लौट रही थीं। सुबह करीब पांच बजे एंबुलेंस पुरवा कोतवाली के तुसरौर गांव के पास पहुंची थी कि अज्ञात वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि एंबुलेंस के परखच्चे उड़ गए।

हादसे में प्रेमा, मंजुला, अंजली और रूबी की भी मौत हो गई। सुधा को गंभीर हालत में परिजनों ने कानपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। एसपी सिद्धार्थशंकर मीना ने बताया कि जिस तरह से हादसा हुआ उससे अनुमान है कि ओवरटेक करते समय किसी वाहन ने टक्कर मारी है। टक्कर मारने वाले वाहन का पता लगाया जा रहा है।

एंबुलेंस की तेज थी रफ्तार

कानपुर हैलट से शव एंबुलेंस में चलने के बाद चालक की रफ्तार इतनी तेज की थी कि पीछे चल रहे दो बाइकों पर सवार लोगों में वंश उसके चचेरे नाना बउवा और बहन साक्षी, जबकि दूसरी बाइक पर बैठे मृतकों के पति अनुपम, पवन और उसका बेटा सत्यम उसे पकड़ भी न पाए। जिस स्थान पर घटना हुई वहां से दोनों बाइक सवार छह किलोमीटर की दूरी पर थे। जब वह पास पहुंचे और मंजर देखा तो बेहाल हो गए। पवन ने बताया कि एंबुलेंस चालक ने छह हजार रुपये में सौदा तय किया था। तेज रफ्तार हादसे का कारण बना। वहीं एंबुलेंस चला रहा कन्नौज निवासी चालक शिवम यादव का पता पुलिस ने लगा लिया है।

एक ही परिवार के पांच मौतों पर मुख्यमंत्री जताया शोक

मृतक धनीराम की बीमारी उसके बाद पत्नी और तीन बेटियों की हादसे में मौत होने के साथ ही चौथी बेटी के घायल होने की जानकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोशल मीडिया पर शोक जताया है। साथ ही परिवार को दुख सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से कामना की है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments