Friday, June 14, 2024
HomeदेशRam Mandir: अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह पर आतंकी खतरा…?

Ram Mandir: अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह पर आतंकी खतरा…?

Ram Mandir: एक तरफ जहां देश-विदेश में 22 जनवरी को राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर उत्साह है। अधिक से अधिक लोग राम लला के दर्शन करने के लिये अयोध्या जाना चाहते हैं और पल के गवाह बनना चाह रहे हैं जब भगवान राम की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा भव्य राम मंदिर में की जाएगी। देश भर में लोग तरह तरह से राम मंदिर में सहयोग तो कर ही रहे हैं वहीं अयोध्या पहुंचने का लोगों का सिलसिला भी लगातार जारी है। प्राण प्रतिष्ठा समारोह की तैयारियां भी पूरे जोरशोर से चल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देश कई बड़े नेता और गणमान्य लोग इस समारोह में भाग लेने वाले हैं। इसी बीच एजेंसियों ने अलर्ट जारी करते हुए जानकारी दी है कि 22 जनवरी को होने वाला राम मंदिर का उदृ्घाटन कार्यक्रम आतंकवादियों के निशाने पर है जिससे इस समारोह में शामिल होने वाले नौकरशाहों, नेताओं और पर खतरा मंडरा रहा है। कुछ आसामाजिक तत्व ऐसे हैं जो इस माहौल का खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। राम जन्म भूमि प्राण प्रतिष्ठा समारोह के भव्य आयोजन ने पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी आईएसआई की आंख में किरकर कर रखी है। एजेंसियों ने इस बात का दावा किया है कि कïट्टरपंथी संगठन इस बात प्रचार प्रसार करने में लगे है कि भारत केंद्र सरकार एक विशेष वर्ग के खिलाफ है। इसी के चलते इस समारोह में आतंकी घटना को अंजाम दिया जा सकता है।

जानकारी मिली है कि इसी सब के चलते खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद सुरक्षा एजेंसियों की एक खास बैठक की गई है और इस बैठक में समारोह को सुरक्षा के व्यापक व्यवस्था व्यवस्थाएं करने और इस खतरे से निपटने के जरूरी दिशा निर्देश जारी किये गये हैं। इसके साथ यह भी निर्देेश जारी किये गये हैं कि समारोह के दौरान सुरक्षा बल विशेष रूप से सतर्क रहें जिससे किसी भी आतंकवादी घटना से बचा जा सके। सुरक्षा बलों को कहा गया है कि वह सभी इलाकों में कड़ी निगाह रहें और तलाशी अभियान में किसी प्रकार की हीला हवाली न बरतें। इस बात की जानकारी की निकल कर आ रही है कि पाकिस्तानी खूफिया एजेंसी इस प्रयास में है कि किसी तरह से 22 जनवरी 2024 से पहले किसी भी तरह से अयोध्या, उत्तरप्रदेश और देश अन्य इलाकों में माहौल को खराब किया जाए जिससे यह प्रचारित हो सके कि भारत में वर्ग विशेष को प्रति माहौल ठीक नहीं है और उनका उत्पीडऩ हो रहा है।

दस हजार से अधिक एआई बेस्ट कैमरों से की जा रही निगरानी

सुरक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद बनाए रखने के लिये अयोध्या में उत्तरप्रदेश सरकार अलर्ट मोड पर है। सरकार ने सुरक्षा के लिये एडवांस्ड और मैनेज्ड सिस्टम के तहत एक व्यापक योजना लागू की है। इसके तहत 1500 से अधिक सार्वजनिक सीसीटीवी लगाए गये है जिससे हर तरफ निगाह रखी जा सके। दूसरी तरफ अयोध्या का जो यलो झोन बनाया गया है वहां पर 10 हजार से अधिक एआई कैमरों से निगाह रखी जा रही है इन कैमरों की खासयित यह है कि इसमें एआई टैक्नोलाजी की मदद से चेहरों को पहचान लिया जा सकेगा। इस सबके लिये एक सेंट्रल कंट्रोल रूप में सरकार द्वारा तैयार किया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments