Wednesday, May 22, 2024
Homeखबरेंकिसानों को डिजिटल बना रहा एगटेक प्‍लेटफॉर्म

किसानों को डिजिटल बना रहा एगटेक प्‍लेटफॉर्म

भोपाल। भारतीय प्रबंधन संस्थान आईआईएम लखनऊ का अनुसंधान भारत के कृषि और कृषि क्षेत्रों को डिजिटल बनाने के महत्व और पूरे उद्योग में क्रांति लाने की इसकी क्षमता को रेखांकित करता है। भारत में चार प्रमुख एगटेक प्लेटफार्मों की जांच करके, अध्ययन इन प्लेटफार्मों के नेटवर्क प्रभावों के प्रभाव की पहचान और चर्चा करता है और वे भारतीय कृषि को कैसे बढ़ाते हैं। कृषि, जिसे कभी अर्थव्यवस्था के सबसे कम डिजिटलीकृत क्षेत्रों में से एक माना जाता था, डिजिटल पारिस्थितिकी तंत्र और प्लेटफार्मों की शुरूआत के कारण परिवर्तन का अनुभव कर रहा है। एगटेक प्लेटफॉर्म किसानों के बीच डिजिटल साक्षरता को बढ़ावा देते हैं, उन्हें डेटा-संचालित अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं और कृषि में डिजिटल अंतर को पाटते हैं। यह अध्ययन कृषि व्यवसायों, सरकारी एजेंसियों या सहकारी समितियों द्वारा ऐसे प्लेटफार्मों के निर्माण और लाभ की रूपरेखा तैयार करने वाला पहला अध्ययन है। आईआईएम लखनऊ के सेंटर फॉर फूड एंड एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट के प्रोफेसर संजीव कपूर और आईआईएम रोहतक के मार्केटिंग एंड स्ट्रेटेजी एरिया के प्रोफेसर नीरज सिंह द्वारा किया गया शोध जर्नल में प्रकाशित हुआ है। प्रौद्योगिकी विश्लेषण एवं रणनीतिक प्रबंधन, यह अध्ययन भारत के चार सबसे बड़े एगटेक प्लेटफार्मों पर केंद्रित है। देहात, समुन्नति एग्रीलेवेट, इफको बाजार, और कृभको-सीएससी-ईगॉव। नेटवर्क प्रभावों पर उनके प्रभाव की जांच करने और विशेष रूप से मिलान, लेनदेन, खोज और मूल्यांकन के माध्यम से वे प्लेटफ़ॉर्म के मूल्य प्रस्ताव को कैसे बढ़ाते हैं, इसकी जांच करने के लिए कई स्रोतों से विशेषज्ञ परामर्श और डेटा विश्लेषण आयोजित किए गए।

कृषि व्‍यवसाय के लिए लाभदायक

प्रोफेसर संजीव कपूर, सेंटर फॉर फूड एंड एग्रीबिजनेस मैनेजमेंट, आईआईएम लखनऊ और अध्ययन के प्रमुख लेखक ने इस शोध के महत्व पर जोर देते हुए कहा यह अध्ययन एगटेक प्लेटफार्मों के लिए भागीदारों पर चर्चा करने वाला पहला अध्ययन है। यह एक अद्वितीय केस रिसर्च पद्धति का उपयोग करके निजी और सहयोगात्मक रूप से विपणन किए गए एगटेक प्लेटफॉर्म दोनों में भागीदारों की जांच करता है। कृषि क्षेत्र में ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स और अन्य लोकतांत्रिक डिजिटल बाजारों के उदय के कारण यह अध्ययन डिजिटल कृषि व्यवसाय रणनीतियों के विकास के लिए प्रासंगिक है। व्यवसायी और नीति निर्माता ग्रामीण बाजारों के लिए प्लेटफॉर्म बनाने और स्थापित करने के अभ्यास के रूप में उभरते एगटेक वैल्यू प्रपोजल कैनवस (एवीपीसी) ढांचे का उपयोग कर सकते हैं। विश्लेषण ने उभरते बाजारों के लिए एगटेक प्लेटफॉर्म के लिए आवश्यक पूरक कोर की पहचान की। इनमें माइक्रोक्रेडिट प्रदान करने और लेनदेन को सुविधाजनक बनाने के लिए तीसरे पक्ष के वित्तीय संस्थान, साथ ही दक्षता बढ़ाने के लिए गोदाम और लॉजिस्टिक भागीदार शामिल हैं।

किसानों को मिल रहा उन्‍नति का प्रशिक्षण

इन मंचों के माध्यम से कृषि की उन्नति पर चर्चा करते हुए प्रोफेसर संजीव कपूर कहते हैं इफको बाजार और कृभको सीएससी-ईगॉव साझा स्वामित्व और कई सदस्यों को शामिल करने वाले लोकतांत्रिक शासन के साथ मंच सहकारी समितियों के अनुकरणीय मामले हैं। ये सहकारी समितियाँ सामुदायिक हितों को प्राथमिकता देते हुए सामूहिक निर्णय लेने के माध्यम से किसानों को सशक्त बनाती हैं। वे ग्रामीण युवाओं को प्रशिक्षण देने या स्थानीय ग्राम-स्तरीय उद्यमियों को शामिल करने जैसी स्थानीय पहलों को बढ़ावा देते हैं, जिससे लाभ के साथ समुदाय-संचालित लाभ सुनिश्चित होते हैं। दूसरी ओर, देहात और एग्रीलेवेट, लाभ को प्राथमिकता देने वाली निजी कंपनियों के रूप में, वाणिज्यिक प्रदर्शन और लाभ वृद्धि पर जोर देते हुए फर्म के नेतृत्व वाले नियंत्रण और स्वामित्व शासन को अपनाते हैं। दोनों दृष्टिकोणों के फायदे और नुकसान हैं, लेकिन सहकारी पद्धति अपने समावेशी, समुदाय-केंद्रित शासन, कृषि हितधारकों के हितों के साथ मंच के उद्देश्यों को संरेखित करने और अधिक व्यस्त और समुदाय-संचालित पारिस्थितिकी तंत्र को बढ़ावा देने के लिए जानी जाती है।

साझेदारी कंपनियां करती हैं बेहतर प्रदर्शन

एक सफल एगटेक प्लेटफॉर्म एक स्पष्ट रूप से परिभाषित मूल्य प्रस्ताव का दावा करता है, और इसके साथ जुड़ने वाली साझेदार कंपनियां बेहतर प्रदर्शन करती हैं। यह ढांचा
नेट-पॉजिटिव नेटवर्क प्रभाव को बढ़ाकर कृषि प्लेटफार्मों के विस्तार के लिए रणनीतियों का भी सुझाव देता है। ये निष्कर्ष शोधकर्ताओं के लिए मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं, जो कृषि प्लेटफार्मों से जुड़े पूरक प्रकारों की गहरी समझ प्रदान करते हैं। अनुसंधान इन प्लेटफार्मों की किसानों की स्वीकृति की कम दर जैसे मुद्दों की आगे की खोज के
लिए शुरुआती बिंदु के रूप में काम कर सकता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments