Saturday, May 18, 2024
Homeखबरेंशहरवासियों को बेहतरीन चिकित्‍सा सेवा दे रहा सागर अस्‍पताल : मंत्री श्रीमती...

शहरवासियों को बेहतरीन चिकित्‍सा सेवा दे रहा सागर अस्‍पताल : मंत्री श्रीमती गौर

भोपाल। सागर मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल के सभी डॉक्टर एक टीम में काम करते हैं और अपने क्षेत्र के विशेषज्ञ हैं। हॉस्पिटल द्वारा नियोनेटोलॉजी एवं बाल चिकित्सा सागर ग्रुप की हॉस्पिटल के माध्यम से भोपाल शहर के लिए एक बेहतरीन सेवा है। अस्पताल में उन्नत नवजात और बाल चिकित्सा भोपाल के निवासियों को वर्तमान सेट-अप से विशेषज्ञ अतिरिक्त सुविधाएं प्रदान करेगी और उन्हें मेट्रो शहरों का रूख नहीं करना पड़ेगा। मुझे यह जानकर बेहद खुशी है हॉस्पिटल में सुविधाओं के साथ-साथ इलाज भी न्यूनतम दरों पर होता है। यह बात राज्‍य मंत्री स्‍वतंत्र प्रभार मप्र शासन श्रीमती कृष्णा गौर ने कही। वे सागर ग्रुप के सागर मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल में सबसे उन्नत नवजात आईसीयू व बाल चिकित्सा सेवाओं के उद्घाटन अवसर पर मुख्‍य अतिथि के रूप में मौजूद थी। इस मौके पर डायरेक्टर एसएमएच डॉ. आदित्य अग्रवाल ने कहा, सागर मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल का नवजात आईसीयू हमारे बाल चिकित्सा सेवाओं के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने और हमारी प्रतिबद्धता का प्रमाण है। नवजात शिशुओं और बच्चों को इससे लाभ होगा। नवीनतम तकनीकों के साथ नवजात शिशुओं व बच्चों के इलाज के लिए अनुभवी बहु-विषयक स्पेशलिस्ट एवं विशेषज्ञ डॉक्टरों की हमारी टीम प्रतिबद्ध है । हम कम लागत पर विश्व स्तरीय उपचार प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं और इलाज व मरीज़ो‌ की देखभाल के अपने प्रयासों जारी रखेंगे। इस अवसर पर सागर ग्रुप के मैंनेजिंग डायरेक्टर सिद्धार्थ सुधीर अग्रवाल, सागर ग्रुप के डायरेक्टर सागर सुधीर अग्रवाल, डॉ. आदित्य अग्रवाल डायरेक्टर एसएमएच, डॉ. महेंद्र जैन- डायरेक्टर नवजात एवं बाल रोग सेवाएं एसएमएच, डॉ. मनोज वैष्णव – सीनियर कंसल्टेंट पीडियाट्रिक्स सर्विसेज एसएमएच, डॉ. निखिल जैन – कंसल्टेंट नियोनेटोलॉजी सर्विसेज एसएमएच, डॉ. अजुन पटेल – कंसल्टेंट नियोनेटोलॉजी सर्विसेज एसएमएच और डॉ. प्रिया शर्मा – कंसल्टेंट पीडियाट्रिक्स एंड नियोनेटोलॉजी सर्विसेज, डॉक्टर्स और अन्य नर्सिंग स्टाफ की उपस्थिति में किया गया।

मंत्री ने किया ट्रॉमा सेंटर का विजिट

श्रीमती कृष्णा गौर ने अस्पताल के आपातकालीन एवं ट्रॉमा सेंटर, स्त्री रोग विभाग और बाल चिकित्सा केंद्र को विजिट किया और अस्पताल में भर्ती रोगियों से बातचीत की। श्रीमती कृष्णा गौर डॉ. महेंद्र जैन के नेतृत्व में नियोनेटोलॉजी विभाग और बाल चिकित्सा टीम के साथ बातचीत की और हॉस्पिटल में उपलब्ध एनआईसीयू और इसकी नवीनतम तकनीकों और उपकरणों को जाना। सागर मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल (एसएमएच) में नवजात गहन चिकित्सा इकाई (एनआईसीयू) दूसरी मंजिल पर स्थित है और लगभग 4000 वर्ग मंजिल क्षेत्र में फैला हुआ है। 12 बिस्तरों वाली उन्नत नवजात गहन चिकित्सा इकाई परिवार-केंद्रित रुप में है और समय से पहले, बीमार और सर्जिकल हस्तक्षेप की आवश्यकता वाले नवजात शिशुओं के लिए एक क्षेत्रीय रेफरल केंद्र है। इसके डीएम-प्रशिक्षित नियोनेटोलॉजिस्ट बहु-विषयक और विशेषज्ञ डॉक्टर की टीम सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे बीमार नवजात शिशुओं की देखभाल करते हैं। इसका ए.एच.यू क्षेत्र शिशुओं के लिए संक्रमण-मुक्त वातावरण बनाने के लिए 3.0-माइक्रोन कण को ​​​​फ़िल्टर करता है और यहाँ उन्नत कैलरोड हीटर टेक्नोलॉजी (जीई हेल्थकेयर) वाले रेडियंट केयर वार्मर्स संचालित है। एनआईसीयू में मल्टी-पैरा मॉनिटर्स के साथ उन्नत क्लोज्ड केयर सिस्टम इन्क्यूबेटर्स भी शामिल है। लईडी फोटोथेरेपी इकाई सिंगल और डबल सतह एव्ं, पारंपरिक, उच्च- आवृत्ति और गैर-आक्रामक वेंटिलेशन बेबी लॉग वीएन 600 ड्रेजर वेंटिलेटर इसमें सुसज्जित है । 100 MA पोर्टेबल एक्स-रे मशीन और परिवहन इनक्यूबेटर नवजात शिशुओं के लिए एक पूर्ण चिकित्सा का क्षेत्र बनाते हैं। विभाग बाल चिकित्सा सर्जरी, नवजात शिशुओं के लिए पोस्ट-ऑपरेटिव केयर, शिशुओं के लिए कॉम्प्लेक्स डायग्नोस्टिक सेवाएं, बेबी ट्रांसफ्यूजन सेवा, पूर्ण पोषण, जेनेटिक वर्कअप लैक्टेशन सलाहकार, शिशु आहार विशेषज्ञ और फिजियोथेरेपिस्ट की सेवाएं भी प्रदान करता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments