Wednesday, April 17, 2024
Homeखेलएक टेस्ट के बाद ही सूर्यकुमार यादव बाहर हो जाएंगे टीम से,...

एक टेस्ट के बाद ही सूर्यकुमार यादव बाहर हो जाएंगे टीम से, केएल राहुल को मिलेगा आखिरी मौका?

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मुकाबला शुक्रवार (17 फरवरी) से नई दिल्ली में खेला जाएगा। टीम इंडिया बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में 1-0 से आगे है। उसने नागपुर में खेले गए पहले टेस्ट में पारी और 132 रन से जीत हासिल की थी। अब भारतीय टीम की नजर दूसरे टेस्ट को जीतकर सीरीज में अजेय बढ़त हासिल करने पर होगी। दिल्ली टेस्ट में प्लेइंग-11 में कुछ बदलाव देखने को मिल सकता है।

मध्यक्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर फिट हो गए हैं और उनकी वापसी प्लेइंग-11 में तय मानी जा रही है। कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि अगर श्रेयस पांच दिन का भार उठाने में सक्षम हैं तो उनकी वापसी हो सकती है। श्रेयस बीसीसीआई की मेडिकल टीम से हरी झंडी मिलने के बाद टेस्ट टीम में वापस आए हैं। उन्हें बांग्लादेश में दूसरे टेस्ट के दौरान पीठ के निचले हिस्से में चोट लगी थी। अगर अय्यर की वापसी होती है तो सूर्यकुमार यादव को बाहर बैठना पड़ेगा।

सूर्यकुमार यादव का बाहर होना तय!

सूर्यकुमार यादव ने नागपुर में डेब्यू किया था। उन्होंने पहली पारी में आठ रन बनाए थे। अय्यर के नहीं खेलने पर उन्हें मौका मिला था। श्रेयस का रिकॉर्ड टेस्ट मैचों में शानदार है। उन्होंने सात मुकाबलों में 56.73 की औसत से 624 रन बनाए हैं। इस दौरान अय्यर ने एक शतक लगाया है। उनके बल्ले से पांच अर्धशतक भी निकले हैं। उन्होंने टेस्ट की अपनी पिछली तीन पारियों में नाबाद 26, 87 और 86 रन बनाए हैं। ऐसे में अगर अय्यर पूरी तरह फिट होते हैं तो सूर्यकुमार यादव का बाहर बैठना तय है।

केएल राहुल का क्या होगा?

ओपनर बल्लेबाज केएल राहुल का फॉर्म पिछले कुछ समय से खराब चल रहा है। इस कारण उन्होंने टी20 में अपना स्थान गंवा दिया। वहीं, वनडे में उन्हें उप-कप्तान के पद से हटा दिया गया। राहुल नागपुर में खेले गए पहले टेस्ट में सिर्फ 20 रन बना सके थे। वह टेस्ट की पिछली आठ पारियों में अर्धशतक नहीं लगा सके हैं। पिछली बार जोहानिसबर्ग में उन्होंने 50 रन की पारी खेली थी।

राहुल दिसंबर 2021 के बाद से टेस्ट में शतक नहीं लगा पाए हैं। उन्होंने पिछला शतक भी दक्षिण अफ्रीका में ही लगाया था। तब उन्होंने सेंचुरियन में 123 रन की पारी खेली थी। टीम प्रबंधन का भरोसा राहुल पर अभी भी कायम है। उन्हें एक और मौका मिल सकता है। अगर राहुल को दिल्ली टेस्ट में खेलने का मौका मिलता है तो उन्हें बड़ी पारी खेलनी होगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments