Wednesday, May 22, 2024
Homeराज्‍यछत्‍तीसगढमहादेव सट्टा ऐप मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, लालच देकर...

महादेव सट्टा ऐप मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, लालच देकर बैंक खाता खुलवाने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

दुर्ग। पुलिस को महादेव सट्टा ऐप मामले में एक बड़ी सफलता मिली है। दुर्ग पुलिस ने सट्टा ऐप से जुड़े बड़े सटोरियों को अरेस्ट किया है। इससे पहले  पुलिस ने कैफे संचालक दो भाइयों को गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उनसे ही महादेव सट्टा से जुड़े इन आरोपियों के खिलाफ जानकारी मिली। गिरफ्तार युवकों में एक केनरा बैंक वैशाली नगर का कर्मचारी है और दूसरा उसका सहयोगी।

जानकारी के अनुसार सुपेला पुलिस ने बीते दिनों अवैध हुक्काबार संचालन की जानकारी मिलने पर देर रात दबिश देकर कार्रवाई की थी। इस दौरान हुक्काबार संचालक भाईयों को गिरफ्तार किया था। पुलिस को हुक्काबार में तलाशी के दौरान ऑनलाइन सट्टे से जुड़े सुराग हाथ लगे थे। पूछताछ में पता चला कि 50 नए बैंक अकाउंट अन्य व्यक्तियों के नाम पर खोले गए हैं। वे उसके खाते में लाखों का ट्रांजेक्शन कर रहे हैं। आरोपियों ने पूछताछ में यह भी बताया कि यह पूरा खेल महादेव सट्टा ऐप से जुड़ा हुआ है। इसके बाद पुलिस ने इस मामले को लेकर गंभीरता लेते हुए जांच शुरू कर दी है।‌ जिसके बाद पुलिस में दो आरोपी संतोष कोरे और कुणाल सोनी को गिरफ्तार किया है।


वहीं इस मामले का मास्टर माइंड आरोपी रिक्की पारख और उसका भाई अभी फरार है। आरोपी रिक्की पारख महादेव ऑनलाइन सट्टा के संचालक सौरभ चंद्राकर का करीबी बताया जा रहा है। वहीं पुलिस ने एक टीम बनाई और लक्ष्मी नगर रिसाली निवासी संतोष कुमार कोसरे और सुपेला गदा चौक मुरुम खदान के पास राजेंद्र प्रसाद चौक निवासी कुणाल सोनी को घेराबंदी करके गिरफ्तार किया। दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments